Bihar Board 2024: बिहार बोर्ड का सख्त एक्शन, अब 2 साल तक एग्जाम नहीं दे पाएंगे ये छात्र

0
159
Bihar Board 2024
Bihar Board 2024

Bihar Board 2024

Bihar Board 2024 : बिहार राज्य बोर्ड माध्यमिक (12वीं) की परीक्षाएं 1 फरवरी से शुरू हो गईं। यह परीक्षा सुबह 9:30 बजे से दो बार होगी। दोपहर 12:45 बजे तक और दोपहर 2:00 बजे से शाम 5:15 बजे तक बिहार शिक्षा विभाग ने सीमा पार कर परीक्षा हॉल में प्रवेश करने की कोशिश करने वाले छात्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का फैसला किया है। ऐसे अभ्यर्थी अगले दो साल तक बिहार राज्य बोर्ड परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे.

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, पिछले दिनों आयोजित हुई बिहार बोर्ड 12वीं परीक्षा के दौरान देरी से पहुंचने वाले छात्र-छात्राओं को परीक्षा केंद्र पर एंट्री नहीं दी गई थी. निर्देश के अनुसार सुबह 9:00 बजे एग्जाम सेंटर का गेट बंद कर दिया गया था. मधेपुरा के ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय परीक्षा केंद्र पर 1 मिनट की देरी होने पर 100 से अधिक छात्र को प्रवेश नहीं मिला था. लगातार छात्र प्रशासन से अर्जी लगा रहे थे कि हमें प्रवेश दिया जाए लेकिन 11 बजे के बाद भी प्रवेश नहीं दिया गया. छात्र कह रहे हैं कि हमारे भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. सड़क जाम की समस्या से हमें देरी हुई है, हम लोग 2 घंटे पहले घर से चले थे और कई छात्र का कहना है कि ठंड की वजह से थोड़ा लेट हो गए थे. ऐसा ही मामला कैमूर, मुजफ्फरपुर और भागलपुर जिले में भी देखने को मिला था.

इस बीच कुछ छात्रों और अभिभावकों ने परीक्षा केंद्र के बाहर हंगामा किया तो कुछ छात्राएं परीक्षा केंद्र के गेट पर चढ़कर चहारदीवारी के रास्ते परीक्षा केंद्र में घुसने की कोशिश करने लगीं. पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा और हमला भी करना पड़ा. वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया.

ये छात्र 2 साल तक परीक्षा नहीं दे सकते

अब बिहार बोर्ड ने ऐसे अभ्यर्थियों पर गंभीरता से विचार करने का फैसला किया है. बिहार राज्य बोर्ड परीक्षा केंद्रों की सीमाओं को पार करना एक आपराधिक अपराध मानता है और कहता है कि इससे नकल रहित परीक्षाओं के संचालन पर असर पड़ेगा। पूरे मामले को देखते हुए बिहार राज्य शिक्षा बोर्ड के विद्यालय परीक्षा समिति ने दोषी अभ्यर्थियों की पहचान कर कार्रवाई करने का आदेश दिया है. इस संबंध में जिला प्रशासन के उप समाहर्ता मिथिलेश कुमार ने पत्र जारी किया है. इसके अलावा, जो छात्र परीक्षा हॉल को पार करने का प्रयास करेंगे, उन्हें दो साल के लिए परीक्षा से बाहर कर दिया जाएगा। उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज है.

एग्जाम सेंटर सुपरिटेंडेंट के खिलाफ भी होगी कार्रवाई

बताया जा रहा है कि बोर्ड बोर्ड विद्यालय समिति उन एग्जाम सेंटर सुपरिटेंडेंट को सस्पेंड करेगी, जो परीक्षा केंद्र पर देरी से पहुंचने वाले परीक्षार्थियों को गेट बंद होने के बाद एंट्री देंगे. उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. केंद्राधीक्षकों को निर्देश दिया गया है कि अगर परीक्षा केंद्र पर इस तरह की घटना होती है तो परीक्षा संचालन अधिनियम 1981 के तहत हंगामा कर रहे परीक्षार्थियों पर कार्रवाई करें.

यह भी पढ़ें: https://indiabreaking.com/sp-leader-murdered-in-ghazipur/

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here