Russia Ukraine War: खुशी-खुशी रूस गया था 19 साल का हर्ष, अब आर्मी के साथ बॉर्डर पर तैनात, अब मां को रोते-रोते बताता है हाल.

0
359
Russia Ukraine War
Russia Ukraine War

Russia Ukraine War

Russia Ukraine War : हरियाणा के करनाल का 19 वर्षीय हर्ष रूस जाकर खुश था। लेकिन अब वहां फंस गया है. उनका परिवार चाहता है कि सरकार उन्हें वापस भारत भेज दे. उन्होंने रूस का दौरा किया। लेकिन अब वह वहीं फंस गया है.

Russia Ukraine War

Russia Ukraine War : जानकारी के मुताबिक, करनाल जिले के सांभली गांव का 19 वर्षीय हर्ष घूमने और अपने पासपोर्ट को मजबूत करने के लिए उद्देश्य से रूस गया था. रूस जाने के बाद हर्ष की जिंदगी में सब ठीक चल रहा था. एक दिन, जब वह रूस में घूम रहा था, तो वह एक एजेंट के संपर्क में आया। हर्ष के साथ पंजाब से भी कुछ युवक आए थे। प्रतिनिधि ने कहा कि वह उन्हें बेलारूस भी ले जाएगा।

बेलारूस के लिए एक अलग वीज़ा की आवश्यकता है। हर्ष और उसके बाकी साथी, जो बेलारूस के रास्ते में जंगल में रह गए थे, उन्हें इस बारे में कुछ भी नहीं पता था। वहां उन्हें रूसी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। और अंततः उसे जेल जाना पड़ता है। फिर हर्ष को सेना को सौंप दिया गया।

Russia Ukraine War

रशियन आर्मी के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन

Russia Ukraine War : हर्ष और उसके साथ मौजूद युवकों के साथ रशियन आर्मी ने कॉन्ट्रैक्ट साइन किया कि वे एक साल के लिए रूस की सेना के लिए हेल्पर के तौर पर काम करेंगे. वहां रूस की सेना उन्हें बंदूक चलाने की ट्रेनिंग दी. यह ट्रेनिंग लगभग 15 दिनों तक चला। फिर उन्होंने उसके हाथ में बंदूक थमा दी. उन्हें यूक्रेन और रूस की सीमा पर खड़े होने के लिए मजबूर किया गया।

Russia Ukraine War

सीएम बोले-मुझे जानकारी नहीं है

Russia Ukraine War : हर्ष को ट्रेनिंग में खाने के लिए बीफ दिया जाता था, लेकिन उसने वो नहीं खाया , अब बॉर्डर पर उन्हें खड़ा किया गया है. उन्हें एक कार्ड दे दिया गया है कि बाहर स्टोर से कुछ भी खा पी सकते हैं. परिवार में चिंता काफी बढ़ी हुई है. मां परेशान और पिता भावुक हैं. भाई कोशिश में लगा है कि उसका भाई वापिस आ जाए. फिलहाल, एंबेसी से शिकायत मेल के जरिये की है. जब भी फोन पर बात होती है तो हर्ष रोने लग  जाता और वहां का हाल बताता है. वहां से सभी साथियों ने मिलकर एक वीडियो भी बनाया है कि सरकार इनकी मदद करे. उधर, सीएम मनोहर लाल से भी करनाल में जब हर्ष से जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमारे संज्ञान में ये मामला नहीं था. अब आया है तो कोशिश करेंगे. वहीं, रूस में फंसे हर्ष के भाई और पिता से सांसद संजय भाटिया ने मुलाकात की.

ये भी पढ़े भारतीय नौसेना ने एसएससी आईटी भर्ती 2024 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ा दी है, अब आपके पास इस तारीख से पहले मौका है।

ये भी पढ़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे कश्मीर, बोले यही है सपनो के भारत का कश्मीर…

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here