Holi Color Side Effects: होली में केमिकल रंगों से हो सकते हैं ये बड़े नुकसान, स्किन कैंसर का बढ़ा देता है जोखिम.

0
250
Holi Color Side Effects
Holi Color Side Effects

Holi Color Side Effects

Holi Color Side Effects: यह होली 25 मार्च को मनाई जाएगी। होली रंगों से भरा त्योहार है. इस त्यौहार का उद्देश्य आपके और दूसरों के जीवन को खुशियों से भरना है। सामाजिक मेलजोल, खान-पान और मनोरंजन पूरे स्थान को आनंद से भर देते हैं। यह साल का वह समय है जब आप होली के रंगों में डूब जाना चाहते हैं, लेकिन कभी-कभी होली के रंग हानिकारक भी हो सकते हैं। ये त्वचा, बाल, आंख, कान और कई अन्य अंगों के लिए खतरनाक हैं। ऐसे में आपको ऐसे रंगों से बचना चाहिए जिनमें ज्यादा केमिकल मौजूद हों। आप घर पर गुलाल बनाकर या बाजार में उपलब्ध हर्बल रंग खरीदकर होली की खुशी में डूब सकते हैं।

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का Facebook चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक: https://www.facebook.com/ibn24newsnetwork

Holi Color Side Effects

Holi Color Side Effects: अभिवृत एस्थेटिक्स नई दिल्ली के सीओ फाउंडर व त्वचा रोग विशेषयज्ञ डॉ. जतिन मित्तल कहते हैं कि आजकल कई तरह के उद्योग रसायनों जैसे डीजल, इंजन आयल, ग्लास पाउडर, एसिड, क्षार आदि का उपयोग होली के रंग बनाने में अत्यधिक इस्तेमाल किया जाने लगा है जो बालों, त्वचा के साथ ही शरीर के कई अंगों को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं.

Holi Color Side Effects

रासायनिक रंग त्वचा के कैंसर को दे सकते हैं न्योता

Holi Color Side Effects: रंगों में मौजूद केमिकल आपकी जिंदगी को बेरंग कर सकते हैं. इनका अधिक इस्तेमाल करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है. रोहतक स्थित पॉज़िट्रान सुपरस्पेशलिटी एवं कैंसर हॉस्पिटल के सीनियर मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. मनीष शर्मा बताते हैं कि गीले रासायनिक रंगों में ग्रीन कॉपर सल्फेट, मरक्यूरी सल्फेट, क्रोमियम जैसे अकार्बनिक और बेन्जीन जैसे घातक एरोमैटिक कम्पाउंड्स होते हैं. उन्होंने बताया कि कुछ रंग अत्यधिक विषैले होते हैं और कैंसर का कारण भी बन सकते हैं. जो लोग रंग खेलते हैं या होली खेलते हैं, उन्हें अक्सर कंजंक्टिवाइटिस, अस्थमा और हार्श, ड्राई त्वचा होने की शिकायत होती है. सिल्वर रंग में मौजूद एल्युमीनियम ब्रोमाइड व लाल रंग में मौजूद मरक्यूरी सल्फाइड त्वचा के कैंसर का कारण बन सकते हैं. इसके साथ-साथ रूखापन, हल्की खारिश, जलन, चकत्ते, एलर्जिक डर्मेटाइटिस, कई मामलों में त्वचा झुलस भी जाती है. ऐसी स्थिति में केमिकल्स में मौजूद महीन तत्व त्वचा में दाखिल होकर स्किन कैंसर का भी कारण बन सकते हैं.

Holi Color Side Effects

हर्बल रंगों का करें इस्तेमाल

Holi Color Side Effects: इन सभी समस्याओं और बीमारियों से बचने के लिए डॉ. मनीष के लिए बेहतर है कि वे हर्बल रंगों से ही होली खेलें। कभी भी रासायनिक रंगों का प्रयोग न करें। हल्के रंगों, गंदगी या ग्रीस से होली न खेलें। अगर रंग आपके कान, मुंह या आंखों में चला जाए तो उन्हें तुरंत साफ करें। त्वचा को रंगों के सीधे संपर्क से बचाएं।

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का YOUTUBE चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक: https://youtube.com/@IBN24NewsNetwork?si=ofbILODmUt20-zC3

यह भी पढ़ें – मेरा जीवन देश को समर्पित… ईडी की कस्‍टडी में सीएम अरविंद केजरीवाल का पहला बयान

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here