Conspiracy Against India: नौकरी की उम्मीद में पहुंचे थे रूस, एयरपोर्ट पर छीना गया पासपोर्ट, कॉम्बैट ट्रेनिंग देकर भेजा यूक्रेन बार्डर, और फिर…

0
29
Conspiracy Against India
Conspiracy Against India

Conspiracy Against India: साजिशकर्ता मोहम्मद मोइनुद्दीन और संतोष कुमार के आदेश पर दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, केरल, तेलंगाना, तमिलनाडु, राजस्थान सहित कई अन्य राज्यों के सैकड़ों लोगों और पश्चिमी युवाओं को जेल में डाल दिया गया। जेल को। रूस में, बंगाल, जम्मू और कश्मीर के लोगों से कई सौ रुपये छीनकर उन्हें नौकरी के प्रस्ताव पत्र सौंपे गए। ये ऑफर लेटर युवाओं को सुरक्षा बलों, सहायता कर्मियों और रूसी सेना से जुड़ी नौकरियों के लिए वितरित किए गए, जिससे उन्हें रूस में बेहतर जीवन की झलक मिली।

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का Facebook चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक: https://www.facebook.com/ibn24newsnetwork

Conspiracy Against India

रूस में जिसे भी कुछ सौ रुपये मिलते थे, वह अपने बेहतर भविष्य को लेकर बहुत खुश था, लेकिन उसे नहीं पता था कि वह भारत के युवाओं के खिलाफ एक गहरी साजिश का शिकार हो गया है। हाल ही में हैदराबाद के मोहम्मद अस्फान और सूरत के हेमल अश्विनभाई मंगुकिया को इस साजिश की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। दरअसल, बेहतर भविष्य की उम्मीद में रूस रवाना हुए असफान और हेमल को रूसी सेना ने यूक्रेनी युद्ध में झोंक दिया था। इसी दौरान हमले में दोनों की मौत हो गई!

इन दोनों मामलों के सामने आने के बाद भारतीय जांच एजेंसियां ​​इन सभी मामलों की जांच में जुट गईं. जांच एजेंसी ने अपनी एफआईआर में बताया है कि रूस में रहने वाली क्रिस्टीना, मोहम्मद मोइनुद्दीन और संतोष कुमार के निर्देश पर डेढ़ दर्जन से अधिक ट्रैवल एजेंटों और एजेंटों ने 12 से अधिक राज्यों के सैकड़ों युवाओं को लाखों डॉलर की नौकरियां प्रदान कीं। भारत की। भारी रकम ऐंठने और वीजा दिलाने के बहाने मानव तस्करों की निगरानी में उन्हें रूस भेज दिया।

Conspiracy Against India: जैसे ही मैं हवाई अड्डे में दाखिल हुआ, मेरा पासपोर्ट चोरी हो गया।

Conspiracy Against India

जांचकर्ताओं के अनुसार, रूस में प्रवेश करते ही एजेंटों ने इन युवकों के पासपोर्ट जब्त कर लिए थे। फिर इन नवयुवकों को सैन्य प्रशिक्षण केंद्रों में ले जाया गया जहाँ उन्हें युद्ध-संबंधी युद्ध प्रशिक्षण प्राप्त हुआ। प्रशिक्षण पूरा करने के बाद सभी भारतीय युवाओं को रूसी सैन्य वर्दी और बैज प्रदान किये गये। फिर इन भारतीय युवाओं को उनकी इच्छा के विरुद्ध रूस और यूक्रेन के युद्ध क्षेत्रों में स्थित ठिकानों पर भेज दिया गया, जहाँ उनका जीवन लगातार खतरे में था।

Conspiracy Against India: यूक्रेन के हमले में कई भारतीय घायल हो गए

Conspiracy Against India

जांचकर्ताओं के अनुसार, रूस में अगवा किए गए कई युवा भारतीय यूक्रेनी हमलों में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। वहीं, यूक्रेन के मिसाइल हमले में हैदराबाद के मोहम्मद असफान और सूरत के हमाल अश्विनभाई मंगोकिया की मौत हो गई। इन मामलों के सामने आने के बाद, भारत की प्रमुख जांच एजेंसी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने एक साथ आईपीसी की धारा 120-बी, 420 और 370 के तहत आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और लक्ष्यीकरण के आरोप दर्ज किए। मानव तस्करी की प्राथमिकी दर्ज की गयी है!

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का YOUTUBE चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक: https://youtube.com/@IBN24NewsNetwork?si=ofbILODmUt20-zC3

यह भी पढ़ें – Accused arrested: पड़ोसी दूकानदार के नौकर के साथ मिलकर पड़ोस की दूकान से लाखों का माल उड़ाने वाले दोनों चढ़े पुलिस के हत्थे.

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here