HomeViral Newsहरियाणा के इस जिलें में गरीबों के गेहूं पर सरकारी कर्मचारियों का...

हरियाणा के इस जिलें में गरीबों के गेहूं पर सरकारी कर्मचारियों का डाका, CM फ्लाइंग ने रेड कर 3 को गिरफ्तार किया

यमुनानगर. हरियाणा के यमुनानगर जिले में गरीबों को मिलने वाली गेंहू पर सरकारी कर्मचारी डाका मार रहे थे, जिसपर सीएम फ्लाईंग ने छापा मारकर 3 लोगों को रंगे हाथों काबू कर स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया. मुख्यमंत्री उड़न दस्ते के साथ आए अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में पूछताछ के दौरान जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के दो इंस्पेक्टरों के नाम भी आ रहे हैं. दरअसल सीएम फ्लाइंग को शिकायत मिली थी कि मंडी में शेड के नीचे पड़ी गेहूं की बोरियों से आरोपी गेहूं चोरी कर वजन बढ़ाने के लिए उन पर पानी का छिड़काव कर देते हैं.

सीएम फ्लाइंग ने रेड के दौरान मौके से एक पानी का टैंकर, पानी का प्रेशर बनाने के लिए एक पंप इंजन और पानी का पाइप आदि बरामद कर लिया है. वहीं पुलिस को देख खाद्य आपूर्ति विभाग के इंस्पेक्टर अपनी बाइक छोड़ मौके से फरार हो गए.

सीएम फ्लाईंग को देख मंडी में मचा हड़कंप

शनिवार देर शाम अनाज मंडी में पहुंची मुख्यमंत्री उड़न दस्ते की टीम को देख हड़कंप मच गया, इससे पहले की कोई कुछ समझ पाता सीएम फ्लाइंग ने सरकारी गेहूं की बोरियों पर पाइप लगाकर पानी डाल रहे तीन लोगों को हिरासत में ले लिया. सीएम फ्लाइंग ने स्थानीय पुलिस को मौके पर बुलाकर पकड़े गए तीनों लोगों को उनके हवाले कर दिया, और मामले की जांच शुरू कर दी.

बोरियों का वजन ढ़ाने के लिए डाला जाता था पानी

सीएम उड़न दस्ते के अधिकारियों ने बताया कि उन्हें शिकायत मिली थी कि मंडी में शेड के नीचे पड़ी गेहूं की बोरियों में से गेहूं चोरी से निकाला जा रहा है और बोरियों का वजन बराबर करने के लिए उनपर पानी डाल दिया जाता है. रेड के दौरान उन्हें तीन व्यक्ति यह काम करते हुए मिले तीनों को हिरासत में लेकर आगे की जांच शुरू कर दी गई है. 

अधिकारियों ने यह भी बताया कि फूड एंड सप्लाई विभाग के दो इंस्पेक्टर अजीत और कपिल के इशारे पर यह सारा गैर-कानूनी काम चलाया जा रहा था. संबधित विभाग को मौके पर बुलाया गया है उसके बाद सारी परते खुलकर सामने आ जाएंगी. सीएम फ्लाईंग ने ऐसी पांच बोरियों को भी कब्जे में लिया जिनमें से गेहूं निकालकर उन्हें दोबारा सिलाई किया गया था

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
RELATED ARTICLES

Most Popular