Art Creations Cultural Society: पंद्रह सौ से अधिक कैदियों का जीवन बदला है आर्ट क्रिएशन्स कल्चरल सोसायटी ने जन्म से कोई अपराधी नहीं होता है

0
50
Art Creations Cultural Society
Art Creations Cultural Society

Art Creations Cultural Society: पंद्रह सौ से अधिक कैदियों का जीवन बदला है आर्ट क्रिएशन्स कल्चरल सोसायटी ने

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का Facebook चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक:

https://www.facebook.com/ibn24newsnetwork

Art Creations Cultural Society
xr:d:DAFugx5Oo_I:96,j:809925043381259659,t:23091517

Art Creations Cultural Society: संस्था ने करनाल में खोला कार्यालय

जन्म से कोई अपराधी नहीं होता है जेल में जाने वाला परिस्थितियों का मारा होता है
नौ राज्यों के बाद हरियाणा में पदार्पण किया संस्था ने करनाल में खोला कार्यालय
करनाल, 19 मई तिहाड़ सहित देश की कई जेलों के कैदियों को आत्म निर्भर बनाने वाली संस्था आर्ट  क्रिएशन्स कल्चरल सोसायटी के हरियाणा के प्रांत कार्यालय का आज करनाल में शुभारंभ हुआ। यह संस्था नौ राज्यों में काम कर रही हैं। करनाल में भी यह सोसायटी करनाल के जिला कारागार में कैदियों के लिए काम करने की योजना बना रही हैं। आज पाल नगर में इस संस्था के कार्यालय का उद्घाटन प्रदेशाध्यक्ष बीरभान सिंह के पिता सुभाष चंद ने किया। इस अवसर पर संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश बैसला ने बताया कि उन्होंने इस संस्था की शुरूआत आज से अठारह साल पहले दि ल्ली से की थी। वह मुम्बई में मायानगरी में फि ल्मों के प्रोडेक्शन हाउस में काम करते थे। उनकी पत्नी ममता वैसला लैखन का काम करती थीं। उन्होंने कैदियों में दो पुस्तकें लिखी हैं।

Art Creations Cultural Society: जन्म से कोई अपराधी नहीं होता

उन्होंने सबसे पहले तिहाड़ जेल में कैदियों को मुख्य धारा में शामिल करने के लिए उनमें छिपी प्रतिभा को विकसित करने का काम किया। उन्होंने कहा कि जेल में जाने वाला हर आदमी बुरा नहीं होता है कई बार परिस्थितयों का मारा भी जेल जाता हैं। जेल से लौटने के बाद समाज उसे अपनाता नहीं हैं। उन्होंने कई ऐसे कैदी देखे जो बहुत कम बाहर रहे। लेकिन उन्हेांने जब उनको प्रशिक्षण दिया तो वह नहीं लौटे। कई कैदी समाज में रह कर चालीस हजार से चार लाख रुपए कमा रहे हैं।  उन्होंने तिहाड़ जेल में कैदियों के लिए तिहाड़ के आइडल्स के नाम से शो किया। जो दूरदर्शन पर प्रसारित होना है। उन्होंने कैदियों के लिए रेडियो स्टेशन शुरू किया। उनकी संस्था ने तिहाड़ जेल के कैदियों को कलाकर और  योग टीचर बनाया। कई कैदी सजा पूरी करने के बाद पांच सितारा होटलों में रिफार्म बैंड की टीम में काम कर रहे है। कई कैदी अब फिल्म लाइन में हैं। एक कैदी साजिद या चौपड़ा की टीम में काम कर रहा हैं।

Art Creations Cultural Society

Art Creations Cultural Society: जेल में जाने वाला परिस्थितियों का मारा

उन्होंने लगभग पंद्रह सौ कैदियों का जीवन बदल दिया। आज वह अपना कारौवार बर रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनकी संस्था की गूंज पूरे संसार में हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश में भी काम किया। उन्होंने बताया कि उन्होंने लीगल अधिकारियों के लिए योग और मैडीटेशन कार्यक्रम किया। अब वह हरियाणा में काम करने की योजना बना रहे हैं। हरियाणा में मास्टर ट्रेनिंग अभियान की शुरूआत करेंगे। उन्होंने बताया कि उन्हें पेरा मिलट्री फोर्स में भी काम करने का निमंत्रण मिला हैं। वहां पर सिपाहियों की आत्म हत्या की घटनाएं बढ़ी हैं। इसके लिए उन्होंने हरियाणा को चुना हैं। वह अब जल्द हिमाचल प्रदेश में भी कार्यालय खोलने की योजना बना रहे हैं। इस अवसर पर ममता वैसला, जनरल सैकेट्री रचना जैन, सलाहकार अमित  हरियाणा के इंचार्ज बीरभान , हिमाचल प्रदेश के इंचार्ज धर्मेंद्र कंमार, सहित संस्था के सदस्य उपस्थित थे।

पल पल की खबर के लिए IBN24 NEWS NETWORK का YOUTUBE चैनल आज ही सब्सक्राइब करें। चैनल लिंक: https://youtube.com/@IBN24NewsNetwork?si=ofbILODmUt20-zC3

यह भी पढ़ें – Anda Cell in Jails: जेल में अंडा सेल जहां प्रोफेसर जे.एन. साईं बाबा को रखा गया, जहां जीने की आस छोड़ देता है कोई भी शख्स

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here