HomeViral Newsसेना में कौन और कैसे बन सकेंगे अग्निवीर, 10 प्वाइंट्स में समझें

सेना में कौन और कैसे बन सकेंगे अग्निवीर, 10 प्वाइंट्स में समझें

देश की सशस्‍त्र सेनाओं में भर्ती के लिए केन्‍द्र सरकार ने अग्निपथ स्‍कीम की घोषणा की है. युवाओं को सेना से जोड़ने और सशस्‍त्र सेनाओं के आधुनिकीकरण के लिए यह स्‍कीम लाई गई है. केन्‍द्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इसकी घोषणा की है जिसके तहत युवा ओं को 4 साल की अवधि के लिए सशस्‍त्र सेनाओं में कमीशन पर भर्ती किया जाएगा. सेना में कौन और कैसे अग्निवीर बन सकेंगे, इसे यहां समझें.

1: अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवार की आयु 17.5 साल से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
2:
सेना इसके लिए स्‍पेशल रिक्रूटमेंट रैली आयोजित करेगी और कैंपस इंटरव्‍यू आयोजित किए जाएंगे.
3:
भर्ती के लिए किसी भी स्‍ट्रीम से 12वीं पास युवा आवेदन करने के पात्र होंगे.
4:
सेनाओं ने स्‍पष्‍ट किया है कि अब केवल अग्निपथ स्‍कीम के तहत ही सेना में भर्तियां ली जाएंगी और पूर्व की भर्ती प्रणाली खत्म होगी.
5:
भर्ती कुल 4 साल के लिए होगी और अधिकतम 25 प्रतिशत अग्निवीरों को ही सेना में पर्मानेन्‍ट कमीशन पर रखा जा सकेगा.
6:
इस दौरान पहले साल 30,000/- से लेकर चौथे साल 40,000/- तक का पैकेज अग्निवीरों को दिया जाएगा. इसके अलावा जोखिम, राशन,वर्दी और उपयुक्‍त यात्रा भत्‍ता भी दिया जाएगा.
7: 4
साल के बाद आयकर से मुक्‍त 10.4 लाख की संयुक्‍त निधि और उपार्जित ब्‍याज का भी लाभ मिलेगा. 4 वर्ष का टेन्‍योर पूरा करने के बाद उम्‍मीदवार अन्‍य सामान्‍य नौकरियां कर सकेंगे.
8: 4
साल के बाद उम्‍मीदवार रेगुलर काडर के लिए वॉलेंटियर भी कर सकेंगे. सेना में पद रिक्‍त होने पर मेरिट के अधार पर अग्निवीरों को पर्मानेंट भर्ती भी दी जाएगी.

9: अगर कोई अग्निवीर देश सेवा के दौरान शहीद हो जाता है, तो उसके परिजनों को सेवा निधि समेत 1 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि ब्याज समेत मिलेगी. इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन दिया जाएगा. वहीं, अगर कोई अग्निवीर डिसेबिल हो जाता है, तो उसे 44 लाख रुपए तक की राशि दी जाएगी. इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन मिलेगा.

10: सेना अग्निवीरों की भर्ती के लिए जल्‍द नोटिफिकेशन जारी करेगा जिसके बाद आवेदन की प्रक्रिया शुरू होगी.

 स्‍कीम की घोषणा के बाद से देशभर में युवाओं का विरोध प्रर्दशन जारी है. सेनाओं ने पहले से जारी भर्तियों को भी रद्द कर केवल अग्निपथ स्‍कीम के तहत भर्ती लेने का ऐलान किया है. ऐसे में सेना में पर्मानेन्‍ट भर्ती के लिए परीक्षा पास कर चुके उम्‍मीदवार इस फैसले का विरोध कर रहे हैं क्‍योंकि उनकी भर्ती अब टल गई है. तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए जरूरी ऐलान किए हैं.

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
RELATED ARTICLES

Most Popular