HomeViral News'80 रोटी, 3 किलो चावल, 2 किलो मटन' रोज खाता है ये...

’80 रोटी, 3 किलो चावल, 2 किलो मटन’ रोज खाता है ये आदमी, कमी ना हो इसलिए किया ये बड़ा काम

कटिहार: बिहार के कटिहार का मोहम्मद रफीक अदनान अपने वजन को लेकर ख़बरों में है। 30 वर्षीय अदनान 20 से 30 कदम भी पैदल नहीं चल सकता। एक दिन में 3 बार खाना खाने वाले रफीक की डाइट सुनकर आप हैरान हो जाएँगे।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, रफीक दिन भर में 4 किलो आटे से बनी तकरीबन 80 रोटी तथा 2-3 किलो चावल खा लेता है।

प्राप्त एक रिपोर्ट में रफीक का वजन 200 किलो बताया गया है।  रफीक के खुराक के मुताबिक, एक पत्नी खाना नहीं बना पाती थी, इसलिए उसने दूसरी शादी की। रफीक ने कहा, ‘मैं दिन में 3 बार खाना खाता हूँ। मुझे इतनी भूख लगती है कि पूरे परिवार से 10 गुना खाना मैं अकेले खा सकता हूँ। 1 बोरा चावल (50 किलो) हमारे परिवार में मुश्किल से 7 दिन भी नहीं चलता। मैं प्रतिदिन तकरीबन 2-3 किलो चावल अकेले ही खाता हूँ। इसके साथ 2 लीटर दूध, 1-2 किलो मटन या चिकन भी खाता खाता हूँ। इसके अतिरिक्त लगभग 3-4 किलो आटे की रोटी खाता हूँ।

वही रफीक 6 बहनों एवं 4 भाइयों में सबसे छोटा है। उसके पिता गोदाम में काम करते थे तथा माँ घर पर ही रहती थीं। 5वी कक्षा तक पढ़े रफीक ने कहा, ‘मुझे याद है जब मैं 15 वर्षीय था, तब भी मेरा वजन 80 किलो था, मगर उस वक़्त इतना ज्यादा वजन ना होने की वजह से मैं खेलता रहता था। फिर आहिस्ता-आहिस्ता मेरी भूख बढ़ती गई तथा मेरा वजन भी बढ़ता गया। 

मुझे जो भी मिलता मैं वो सब खा लिया करता था।उसने कहा, ‘मैं जैसे ही पैदल चलने का प्रयास करता हूँ, थक जाता हूँ तथा फिर मुझे बैठना पड़ता है। थकान की वजह से यदि मुझे कभी जाना भी होता है तो मैं मोटरसाइकिल से जाता हूँ। मगर कई बार वह भी मेरा वजन नहीं उठा पाती। मैं दिन भर गाँव के लोगों से बात करता रहता हूँ तथा घर के बाहर ही एक पलंग पर लेटा रहता हूँ।एक पड़ोसी के मुताबिक, वजन की वजह से रफीक की मोटरसाइकिल भी कभी-कभी धंस जाती है। लोग उसे शादी-विवाह में बुलाने से भी बचते हैं।

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
RELATED ARTICLES

Most Popular