3 दिन तक बच्चे की लाश को पोछती रही मां ताकि शव को चींटी न खाए, इस मां की मदद के लिए कोई नहीं आया

तमिलनाडु से अंदर तक झकझोर देने वाली एक घटना सामने आई है. यहां सात साल के एक बच्चे ने भूख से दम तोड़ दिया. उसकी मां सरस्वती तीन दिनों तक अपने बच्चे के शव को पोछती रही, ताकि उसे चीटियों से बचाया जा सके. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना चेन्नई से कुछ ही दूरी पर मौजूद तिरुनिंद्रावूर की है. सरस्वती के पड़ोसियों को अचानक उसके घर से शव की बदबू आई, जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी.

मौके पर पहुंची पुलिस ने जब सरस्वती के घर के अंदर जाकर देखा तो उनकी आंखें खुली की खुली रह गईं. बच्चे का शव बुरी स्थिति में था. उसके शरीर पर हड्डियां ही हड्डियां दिखाई दे रही थीं. मामले की जांच में पुलिस को पता चला कि मृत बच्चे की मां सरस्वती कभी होम्योपैथी का एक क्लिनिक चलाती थी. मगर, पति से अलग होने के बाद उसकी मानसिक स्थिति बिगड़नी लगी. वो अक्सर बीमार रहने लगी. इसके कारण उसका क्लीनिक भी बंद हो गया था.

रिश्तेदारों से भी सरस्वती ने एक-एक करके दूरी बना ली थी. इस दौरान वो आर्थिक रूप से कमजोर होती गई, उसके पास खाने तक को कुछ नहीं बचा था. बीते कई हफ्तों से वो अपने घर के अंदर ही बंद थी. इसी दौरान उसके बेटे ने दम तोड़ दिया. पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही आगे की जांच में जुट गई है.

Advertisement