जब बैंक में सुरक्षाकर्मी की बंदूक से अचानक चल गई गोली

गांव धमतान साहिब स्थित महिला कॉपरेटिव बैंक से जींद शहर थाना के पास स्थित महिला कॉपरेटिव बैंक से कैश लेने गए सुरक्षाकर्मी की बंदूक से अचानक गोली चल गई। गोली कंप्यूटर स्क्रीन को चीरती हुई निकल गई और गोली के छर्रे बैंक मैनेजर अनीता देवी और उनके पास बैठी क्लर्क इंदु को लगे, जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गईं।

गोली चलते ही बैंक में अफरातफरी मच गई और लोग बाहर की ओर भागने लगे। घायल बैंक मैनेजर और क्लर्क को नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जहां से चिकित्सकों ने दोनों की गंभीर हालत देखते हुए पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया है। सूचना मिलते ही शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। घायलों ने इत्फाकिया गोली चलने के बयान दर्ज करवाए हैं।

गुरुवार दोपहर 11 बजकर 40 मिनट पर धमतान साहिब के महिला को-आपरेटिव बैंक का सुरक्षाकर्मी चतर सिंह अपने बैंक के अधिकारियों के साथ शहर थाना के पास स्थित बैंक की शाखा से 15 लाख रुपये लेने के गया था। चतर सिंह वहां बैंक मैनेजर के पास खड़ा था। नकदी लेने के बाद चतर सिंह ने अपनी बंदूक को लोड करके जैसे ही उसे बंद किया तो अचानक गोली चल गई।

Image result for jind mai bank mai chali achnak se goli pics

गोली सामने रखे कंप्यूटर के मॉनीटर को चीरती हुई निकली गई। गोली के छर्रे पास बैठी बैंक मैनेजर अनीता देवी और क्लर्क इंदु की बाजुओं में लग गए। इसके अलावा कंप्यूटर के माउस पर भी गोली के छर्रे लगे। गोली चलते ही बैंक में अफरातफरी मच गई। वहां मौजूद ग्राहक बाहर की तरफ भागने लगे।

बैंक स्टाफ ने तुरंत अपनी गाड़ी में अनीता देवी और इंदु को लेकर नागरिक अस्पताल पहुंचे। यहां पर चिकित्सकों ने दोनो को प्राथमिक उपचार दिया और गंभीर हालत को देखते हुए दोनों को पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। सूचना मिलते ही शहर थाना प्रभारी रोहताश ढुल मौके पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी।

इत्फाकिया चली गोली – शहर थाना प्रभारी रोहताश ढुल ने कहा कि सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। घायलों के बयान दर्ज करने के लिए पुलिस रोहतक गई थी। घायल अनीता देवी और इंदु ने कहा कि गोली किसी ने जानबूझ कर नहीं चलाई, बल्कि गोली बंदूक से अपने आप अचानक चल गई। इसमें किसी का कोई दोष नहीं है। पुलिस ने दोनों के बयान दर्ज करके इत्फाकिया कार्रवाई की है।

 

Advertisement