WhatsApp के इस खास मैसेज से हो जाएं सावधान, क्रैश हो सकता है ऐप, बचने के लिए अपनाएं ये तरीके

नई दिल्ली. दुनियाभर में इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp के क्रैश होने की शिकायत मिल रही है। दरअसल WhatsApp पर एक अजीब तरह का लंबा सा मैसेज रिसीव होता है, जिसमें स्पेशल कैरेक्टर का इस्तेमाल होता है। इन स्पेशल कैरेक्टर वाले मैसेज का कोई मतलब नही होता है। इसके चलते WhatsApp इन मैसेज को डिकोड नही कर पाता है। यही Whatsapp के क्रैश होने की वजह बन रही है। यह समस्या खासकर ब्राजील समेत दुनिया के कई अन्य देशों में आ रही है।

कैसे होते हैं यह खास मैसेज

WhatsApp की कोडिंग लैंग्वेज को प्रभावित करने के लिए स्पेशल कैरेक्टर की मदद से खास तरह से मैसेज को डिजाइन किया जाता है। इस तरह के कई मैसेज और वी-कार्ड वायरल हो रहे हैं, जिनकी वजह से WhatsApp ऐप अपने आप क्रैश हो रहा है। इस जानकारी का खुलासा वेब बीटा की एक रिपोर्ट से हुआ है। आपको बता दें कि इससे पहले भी WhatsApp मैलिसियस कोड वाले मैसेज के कारण कई बार क्रैश हो चुका है। वेब बीटा इंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, इन मैसेज में ऐसे कैरेक्टर्स का इस्तेमाल किया गया है, जिनके कारण ऐप क्रैश हो जाता है। इस ही तरह वी-कार्ड भी ऐप को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

मिड रेंज के स्मार्टफोन को ज्यादा नुकसान

वी-कार्ड मैसेज और मैलेसियल कोड वाले मैसेज से सबसे ज्यादा मिड रेंज वाले अफोर्डेबल डिवाइस को नुकसान पहुंच रहा है, जिसमें कम पावरफुल चिपसेट का इस्तेमाल किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनियाभर के यूजर्स इस दिक्कत के चलते WhatsApp नही चला पा रहे हैं।

वी-कार्ड में हैं 100 से ज्यादा कैरेक्टर

वेब बीटा इंफो की रिपोर्ट के अनुसार, वी-कार्ड यानी वर्चुअल कार्ड में 100 से ज्यादा कैरेक्टर्स हैं, जिनमें ऐप को क्रैश करने वाले मैलिसियस कोड छिपे हैं। हैकर्स इन कार्ड के जरिए मैलिसियस कोड भेजकर व्हाट्सएप को क्रैश कर रहे हैं।

इससे पहले भी व्हाट्सएप के प्लेटफॉर्म पर आया बग

बता दें कि साइबर सिक्योरिटी कंपनी चेकप्वाइंट के विशेषज्ञों ने पिछले साल व्हाट्सएप के प्लेटफॉर्म पर एक बग का पता लगाया था। विशेषज्ञों का कहना था कि यह बग काफी खतरनाक है। ऐसे में अगर ऐप इस तरह से क्रैश हो जाती है तो यूजर्स की प्रतिदिन की एक्टिविटी पर असर पड़ता है।

ग्रुप चैट पर होता है एक साथ अटैक

आंकड़ों पर गौर किया जाए तो WhatsApp के 150 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हैं और 10 करोड़ से ज्यादा ग्रुप्स हैं। प्रतिदिन लगभग 65 अरब मैसेज भेजे जाते हैं। ऐसे में अगर ग्रुप्स में इस बग से प्रभावित मैसेज को भेजा जाए तो एक साथ कई यूजर्स को निशाना बनाया जा सकता है। इससे एक साथ कई यूजर्स की ऐप क्रैश होकर अनइंस्टॉल हो जाएगी। इसके बाद यूजर्स को ऐप दोबारा इंस्टॉल करनी होगी। हालांकि, ग्रुप चैट डिलीट हो जाएंगी।

कैसे इस समस्या से पाएं छुटकारा

WhatsApp के खास कैरेक्टर वाले मैसेज से क्रैश होने की समस्या का कोई स्थायी समाधान नही है। लेकिन अस्थायी तौर पर अगर आपको इस तरह का मैसेज रिसीव होता है, तो रिसीवर को तुरंत WhatsApp के ऐसे कॉन्टैक्ट को ब्लॉक कर देना चाहिए, जहां से इस तरह का मैसेज रिसीव हुआ है। इसके बाद अपने ग्रुप प्राइवेसी सेटिंग के My Contacts या फिर My Contact except से उसे हटा देना चाहिए, जो आपके WhatsApp के क्रैश होने की वजह बन सकते हैं।

Advertisement