करनाल में गत दिवस वॉयस ऑफ इंडिया और नवचेतना मंच ने हरियाणा सरकार के कला एवं संस्कृति विभाग के सहयोग से 21वीं रफी -किशोर नाइट का किया आयोजन

कार्यक्रम का शुभारंभ फ़िल्म जगत के जाने माने कलाकार यशपाल शर्मा द्वारा शमा रौशन कर के किया गया ।

IBN24 न्यूज़/करनाल रिपोर्टर: इस अवसर पर उन के साथ शिक्षविद और नवचेतना मंच के संयोजक एस पी चौहान, श्री मति सीमा चैहान, वॉइस ऑफ इंडिया के निदेशक डॉ कृष्ण अरोड़ा , गोमा अरोड़ा, करुणा अरोड़ा , अनरुध कालरा , एडवोकेट नरेश बराना, सी ए संदीप अरोड़ा , महेश शर्मा , अशोक महेंद्रू , नरेंद्र अरोड़ा, मुख्यमंत्री के स्थानीय प्रतिनिधि संजय बठला, कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के सदस्य शाम बत्रा , पूर्व अतिरिक्त सचिव हरियाणा सरकार रौशन लाल, एस बी आई के चीफ मैनेजर अजीत राही, महेश चंद्र विशेष रूप से उपास्थि थे ।

कार्यकम का आरंभ देव द्वारा मेरा जीवन कोरा कागज़ गॉ कर किया गया । जाने माने समाज सेवीकपिल अत्रेजा ने छूकर मेरे मन को गॉ कर समा बांध दिया । दूरदर्शन के स्थानीय निदेशक अनिल वधावन ने रिमझिम गिरे सावन और उभरती कलाकार अर्शिया ने जब छाए मेरा जादू सुना कर सब का मन मोह लिया । चंडीगढ़ ख्यात अमृत पाल ने ना तू जमीं के लिए और न आसमां के लिये गुनगुना कर दर्शकों की तालियां बटोर ली वहीं अनु ने अपने जमाने का गीत ,बिंदिया चमकेगी सुनाया स्थानीय कलाकार आर पी सिंह ने जो बात तुझमें है गाया तो राकेश सचदेवा ने मनमोहक अंदाज में दिल क्या करे जब किसी को किसी से पेश कर के सब का मन मोह लिया।

इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए करनाल आई एम ए के पूर्व अध्यक्ष डॉ अभय सूद ने ए मेरी शाह ए खूबा कातिलाना अंदाज में पेश किया तो दर्शकों के पांव थिरक उठे अनु बत्रा ने, जारि जाओ और लक्की ने बचना ए हसीनों गीत सुना कर दर्शकों से तालियां बाजवा ली। उभरती कलाकार आँचल ने चुरा लिया है तुमने जो दिल को सुनाया । करनाल का एक और महान कलाकार एल आई सी के मैनेजर चमन भास्कर ने बुलंद आवाज़ में ,चाहूंगा मै तुझे सांझ सवेरे गाया। कार्यक्रम की चौदहवीं पादान पर नव चेतना मंच के संयोजक एस पी चौहान ने दुनियां में कितना गम है, मेरा गम कितना कम है सुना कर दर्शकों भाव विभूत कर दिया ।गौरव ने खाई के पान बनारस वाला गीत सुनाया ।

पानीपत सिविल हिस्पिटल से पधारी आई सर्जन डॉ शालिनी मेहता ने कोरा कागज़ था मेरा मन मेरा गॉ कर सिद्ध किया कि गायन में प्रोफेशन बाधा नही है । रफी साहब का मकबूल गीत डॉ इकबाल के हिस्से आया जिस के बोल थे , बड़े बेवफ़ा हैं ये हुस्न वाले। केशव और अनु ने एक दोगाना, इशारों इशारों में और यूसुफ खान ने राम चंद्र के गए सिया सुनाया । अनु बत्राऔर अमृत ने अच्छा जी मैं हारी गीत सुनाया जबकि ज़ी टीवी फेम दिव्यम ने ओ शंकर मेरे कब होंगे दर्शन तेरे गॉ कर , दर्शकों की वाह वाही लूट ली । यूसुफ, लक्की ने यम्मा याम्मा गीत सुनाया ।

इस बीच हरियाणा सरकार के पूर्व अतिरिक्त सचिव रौशन लाल ने आज पुरानी राहों से कोई मुझे आवाज़ दे सुना कर वाहवाही लूटी । कार्यक्रम में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने सामाजिक दायित्व के अंतर्गत बैंक की ओर से करनाल के 6 समाज सेवियों को कोरोना समाज सेवा अवार्ड समान्नित किया जिनमे रजनीश चोपड़ा, शुभम गुप्ता, सुनील मदान, दीपक सचदेवा, कपिल किशोर, और दिनेश बक्शी शामिल हैं। इन कोरोना वारियर को प्रशस्ति पत्र,अवार्ड और शाल भेंट कर कर सम्मान दिया गया ।

सम्मान फ़िल्म कलाकार यशपाल शर्मा, एस पी चौहान कृष्ण अरोडा, वॉयस ऑफ इंडिया के सदस्य ,सी ए संदीप अरोड़ा , नरेंद्र अरोड़ा , गोमा अरोड़ा, अनिरुद्ध कालरा, डॉ करुणा अरोड़ा, एस बी आई के चीफ मैनेजर अजित राही और महेश चन्द्र द्वारा ज्ञापित किया गया । वॉइस ऑफ इंडिया और नवचेतना मंच ने मुख्य अतिथि यशपाल शर्मा को फ़िल्म निःर्देशन के क्षेत्र में हरियाणा गौरव अवार्ड दे कर समान्नित किया। ज्ञात हो कि यशपाल शर्मा दादा लख्मी पर हरियाणवी फ़िल्म का निर्माण किया है जिसे आप तक 10 से अधिक अंतराष्ट्रीय अवार्ड हासिल हुए है ।

यशपाल शर्मा की महत्वपूर्ण फिल्मों में राउडी राठौर, एस पी चैहान आ स्ट्रगलिंग मैन, गंगाजल आदि फिल्में रही है । कार्यक्रम के अंत मे संगीतकारों सागर, आशीष, राजेश , करण, आशु, दक्ष , अमन, यमन को यशपाल शर्मा द्वारा अवॉर्ड दे कर समान्नित किया गया । मंच संचालन महेश शर्मा और डॉ कृष्ण अरोड़ा ने किया । कृष्ण अरोड़ा ने कार्यक्रम में सब का आभार व्यक्त करने से पूर्व गीत भी सुनाया जिस के बोल थे. ज़िंदगी का सफ़र है ये कैसा सफ़र कोई समझा नही कोई जाना नहीं !.

रफी किशोर नाइट में मुख्य रूप से जे आर कालड़ा, दिनेश गुलाटी, सरिता ठाकुर, सुनील बिंदल एवम श्रीमती बिंदल, दीप्ति एवम मयंक एडवोकेट धर्मपाल गुप्ता , कपिल गुप्ता, एडवोकेट नरेश बराना, नरेंद्र अरोड़ा, जंग बहादुर चौहान, ओमबीर राणा, विशाल गुप्ता , नरेश अरोड़ा, रीना अरोड़ा, अंजू छाबड़ा सुनील छाबड़ा, अशोक अरोड़ा, मंजू, लीना अरोड़ा, संजीव मेहता ,वैशाली अरोड़ा,  कला एवं संस्कृति विभाग हरियाणा सरकार की प्रोग्राम ऑफीसर डॉ दीपिका मुख्य रूप से शामिल थे।

कार्यक्रम के सफल आयोजन में उद्योगपति भूषण गोयल, रोहित गुप्ता, वाई सत्य नारायणअग्रवाल , एस पी चौहान, डॉ भरत सिंघल, कनिष्क गुप्ता, राकेश सचदेवा, सुनील बिंदल तथा आर्ट एंड कल्चर विभाग हरियाणा सरकार  का विशेष सहयोग रहा। कार्यक्रम के अंत मे डॉ कृष्ण अरोड़ा ने सभी का धन्यवाद किया ।

Advertisement