किसानों से भरी बस को ट्रक ने मारी टक्कर, हालत गंभीर

कृषि कानून को लेकर चल रहा किसान आंदोलन अब किसानो पर ही भारी पड़ता जा रहा है। लगातार हो रही किसानो की मौत का मामला बढ़ता जा रहा है। बतादें कि एक और बड़ा हादसा हो गया है। बताना लाजमी है कि किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए पंजाब के फरीदकोट से आई किसानों की बस को ट्रक ने टक्कर मार दी। जिससे बस चालक समेत महिला किसान गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए पीजीआई भर्ती कराया गया।

हादसा सुनारियां जेल चौक के पास हुआ। पुलिस ने केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। मामले के अनुसार पंजाब के फरीदकोट के गांव मत्ता निवासी अंग्रेज सिंह ने बताया कि वह पंजाब खेत मजदूर जतो का प्रधान है। वह अपने साथी सोहणा सिंह के साथ मिनी बस में किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए दिल्ली जा रहे थे। बस को सोहणा सिंह चला रहा था। जिसमें मत्ता और बग्गयाणा गांव के 15 महिला-पुरुष किसान भी बैठे हुए थे। ग्रामीण रात को सुनारिया जेल चौक के पास एक होटल पर रूक गए।

इस दौरान चालक बस का शीशा साफ कर रहा था उसी दौरान जेल की तरफ से तेज गति से एक ट्रक आया। ट्रक चालक ने लापरवाही बरतते हुए बस में पीछे से तेज टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही चालक बस के साथ दूर जाकर गिरा। बस में सवार अन्य लोगों ने इधर उधर बाहर भागकर जान बचाई।

बेकाबू ट्रक होटल की ग्रिल तोड़ते हुए एक खेत में घुस गया। हादसे को अंजाम देकर चालक मौके से फरार हो गया। हादसे में सोहणा सिंह और हरप्रीत कौर गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें उपचार के लिए पीजीआई में भर्ती कराया गया है। शिवाजी कालोनी पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

Advertisement