हरियाणा की इस युवती ने की गैर धर्म के लड़के से शादी ! जान बचाने के लिए पहुँची हाई कोर्ट

नई दिल्ली। परिजनों की मर्जी के खिलाफ धर्म बदलकर मुस्लिम लड़के से शादी करने वाली युवती व उसके पति ने दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में याचिका दायर की है। इसमें युवती के परिजनों पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई गई है।

दंपती की याचिका पर न्यायमूर्ति योगेश खन्ना की पीठ ने कोटला थाना पुलिस को निर्देश दिया कि वह एसएचओ, बीट कांस्टेबल एवं अन्य अधिकारियों का नंबर दंपती को दें, ताकि आपात स्थिति में वे उनसे संपर्क कर सकें। इसके साथ ही पीठ ने एसएचओ दंपती पूरी जानकारी लेकर उचित कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया है। मामले में अगली सुनवाई 21 अक्टूबर को होगी।

हरियाणा के पानीपत निवासी युवती ने कहा कि वह वयस्क है और अपनी मर्जी से धर्म बदलकर मुस्लिम लड़के से शादी की है। उनके परिजन शादी के खिलाफ हैं और धमकी दे रहे हैं। युवती का आरोप है कि हरियाणा पुलिस उनके पति की तलाश में पहले भी आ चुकी है और दुकान के कर्मियों को प्रताड़ित भी किया है। इसके कारण वे दोनों डरे हुए हैं।

दंपती के अधिवक्ता ने आरोप लगाया कि 23 सितंबर को हरियाणा पानीपत के पुलिस अधीक्षक को ईमेल के माध्यम से दोनों की शादी का प्रमाण पत्र भेज दिया था। दिल्ली पुलिस को इसकी जानकारी भी दी थी। वहीं, पानीपत सेक्टर-13/17 थाना पुलिस ने कहा कि युवती का इकबालिया बयान दर्ज करने के लिए उसकी उपस्थिति जरूरी है।

बता दें कि इससे पहले दक्षिण दिल्ली में 2 सगी बहनों के साथ लव जिहाद का मामला सामने आया था, जिसके बाद बड़ा बवाल मचा था। इसको लेकर हिंदू संगठनों ने आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद यह मामला पुलिस जांच में शामिल हो चुका है। गौरतलब है कि 21वीं सदी में भी ऑनर किलिंग की घटनाएं इंसानियत के साथ हमारे सभ्य होने पर भी सवाल खड़ा करती हैं कि कैसे हम हत्या जैसा कृत्य अंजाम दे सकता है वह भी लव मैरिज करने पर।

Advertisement