इस गांव ने कायम की दान देने की मिसाल, कोराना फण्ड के लिए सौंपा 1 करोड़ रुपये का चेक

मच्छगर गांव के बाद हरियाणा की एक और ग्राम पंचायत ने कोरोना रिलीफ फंड में सहयोग देने का रिकॉर्ड कायम किया है| अब फरीदाबाद की ही चंदावली गांव पंचायत ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए सरकार को 1 करोड़ रुपये का चेक दिया है| पंचायत प्रतिनिधियों ने सोमवार को चंडीगढ़ में सीएम आवास पर मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को इस रकम का चेक सौंपा| फरीदाबाद इंडस्ट्रियल मॉडल टाउनशिप इसी पंचायत का हिस्सा है| यहां की पंचायत प्रमुख अंजू यादव  हरियाणा में सबसे कम उम्र की सरपंच हैं| इस वक्त उनकी उम्र 26 साल है| उन्होंने अपने गांव में सीसीटीवी कैमरे भी लगवाए हुए हैं|

सीएम को चेक सौंपते समय ग्राम पंचायत की तरफ से सरपंच अंजू यादव के पिता गिर्राज यादव, पंच भूलेराम, महेंद्र, भीम सिंह, पंकज आदि मौजूद थे| इन्हें इतना बड़ा दान करने के लिए सीएम के राजनीतिक सलाहकार अजय गौड़ ने प्रेरित किया| गौड़ ने कहा कि आज संकट की घड़ी है| सरकार के पास से पैसा जाने का क्रम लगातार जारी है| लेकिन आ नहीं रहा है| ऐसे में जो समृद्ध पंचायतें हैं वो अपने योगदान के लिए आगे आ रही हैं| हरियाणा की ऐसी पंचायतों से देश की दूसरी पंचायतों को सीख लेनी चाहिए|

इससे पहले मच्छगर गांव की पंचायत ने भी 1 करोड़ रुपये का चेक दिया था| गौड़ ने बताया कि कुछ और समृद्ध पंचायतें भी ऐसे ही सहयोग देने वाली हैं| मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कोरोना रिलीफ फंड में 1 करोड़ रु| की राशि का योगदान देने के लिए सभी गांव वासियों का आभार जताया है| उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ इस जंग में आप सभी का सहयोग सराहनीय है| ऐसी एकजुटता से हम इस महामारी को जल्द मात दे देंगे|

Advertisement