चीनी उत्पादों के बायकॉट के डर से अब इस मोबाइल कंपनी ने अपने शोरूमों में किये ये बदलाव

एंटी चाइना सेंटिमेंट की वजह से इन दिनों भारत में कई जगह चीनी प्रोडक्ट्स का बायकॉट किया जा रहा है| चूंकि भारत के स्मार्टफोन मार्केट पर चीनी कंपनियों का कब्जा है, इससिए उनपर इसका असर पड़ सकता है|

चीनी स्मार्टफोन मेकर Xiaomi भारत में नंबर-1 है| अब कंपनी ने ज्यादातर शहरों में डैमेज से बचने के लिए अपने स्टोर्स के आगे मेड इन इंडिया के लोगो लगाने शुरू कर दिए हैं|

अब कंपनी अपने एक्स्क्लूसिव स्टोर्स में मेड इन इंडिया के पोस्टर्स लगा रही है| ET की एक रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी ने अपने शॉप फ्लोर प्रोमोटर्स से शाओमी का यूनिफॉर्म न पहनने को कहा है|

दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, चेन्नई, पटना, आगरा और पुणे जैसे शहरों के शाओमी स्टोर्स को मेड इन इंडिया लोगो से कवर कर दिया गया है|

Will 'Boycott China' strategy really help? - india news ...

ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर्स एसोसिएशन (AIMRA) ने शाओमी, ओपो, वीवो, वन प्लस, रियलमी, लेनेवो-मोटो और हुआवे को लेटर लिखा है| गौरतलब है कि कई जगह चीन के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं और चीनी प्रोडक्ट्स को बायकॉट करने की मांग की जा रही है| इस दौरान कई जगहों पर तोड़ फोड़ और तालाबंदी भी देखने को मिली है|

इस लेटर में रीटेलर्स को एंटी चाइना सेंटिमेंट के दौरान फिजिकल डैमेज से बचाने के लिए कुछ महीने तक के लिए अपने ब्रांड लोगो को कवर करने के लिए कहा गया है|

दिए गए एक इंटरव्यू में Xiaomi India के हेड मनु कुमार जैन ने कहा है कि बायकॉट चाइना सेंटिमेंट से शाओमी के इंडिया बिजनेस पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा| उन्होंने कहा है कि अब भी शाओमी के प्रोडक्ट्स काफी बिक रहे हैं|

मनु जैन ये भी कहते आए हैं कि शाओमी के ज्यादातर स्मार्टफोन्स भारत में ही बनाए जाते हैं| दूसरी कंपनियों के बारे में उनका कहना है कि Xiaomi भारतीय स्मार्टफोन कंपनियों से ज्यादा भारतीय है|

Advertisement