व्हाट्सएप की नई पॉलिसी से Telegram की लगी लॉटरी, 72 घंटे में 2.5 करोड़ डाउनलोड्स

व्हाट्सएप की नई पॉलिसी व्हाट्सएप के लिए ही गले की हड्डी बन गई है। WhatsApp ने अपनी पॉलिसी अपने यूजर्स के लिए बनाई लेकिन अब उसे अपनी पॉलिसी को लेकर सफाई देनी पड़ रही है। व्हाट्सएप ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उसकी नई पॉलिसी किसी अन्य एप को फायदे पहुंचाने का काम करेगी, लेकिन अब हो ऐसा ही रहा है। व्हाट्सएप की नई पॉलिसी का सबसे ज्यादा फायदा Telegram को हो रहा है और दूसरे नंबर पर सिग्नल एप मोर्चा संभाले हुए है।

72 घंटे में 2.5 करोड़ डाउनलोड्स

व्हाट्सएप की नई पॉलिसी से टेलीग्राम का कितना फायदा हुआ है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि महज 72 घंटे में टेलीग्राम पर 2.5 करोड़ नए यूजर्स रजिस्टर्ड हुए हैं। इसकी जानकारी खुद टेलीग्राम के फाउंडर पावेल दुरोव (Pavel Durov) ने दी है। दरोव ने बताया कि Telegram के पास जनवरी के पहले सप्ताह में मंथली एक्टिव यूजर्स की संख्या 50 करोड़ थी जो कि अगले सप्ताह महज 72 घंटे में 52.5 करोड़ हो गई।

 Telegram एप्स के फीचर्स

व्हाट्सएप की तरह टेलीग्राम भी एक मल्टीमीडिया मैसेजिंग एप है जिसमें आपको फोटो-वीडियो भेजने के साथ-साथ डॉक्स फाइल को भी शेयर कर सकते हैं और ऑडियो-वीडियो कॉलिंग भी कर सकते हैं, हालांकि व्हाट्सएप का स्टेटस फीचर आपको टेलीग्राम में नहीं मिलेगा। टेलीग्राम में यूपीआई पेमेंट की सुविधा नहीं है जो कि व्हाट्सएप में कुछ दिन पहले ही शुरू हुई है।

टेलीग्राम भी व्हाट्सएप की तरह एंड-टू-एंड एंक्रिप्टेड है यानी आपके मैसेज, कॉल आदि को कोई देख-सुन नहीं सकता है और ना ही हैक कर सकता है। टेलीग्राम आपसे डाटा के रूप में सिर्फ आपका मोबाइल नंबर और कॉन्टेक्ट लिस्ट लेता है। Telegram की सबसे बड़ी खासियत यह है कि आप इस पर 1.5GB तक की फाइल को शेयर और रिसीव कर सकते हैं।

बता दें कि WhatsApp की नई पॉलिसी 8 फरवरी से लागू हो रही है जिसके मुताबिक वह अपनी पैरेंट कंपनी के साथ यूजर्स का डाटा शेयर करेगी, हालांकि कंपनी ने अपनी सफाई में कहा है कि नई पॉलिसी भले ही सभी यूजर्स को स्वीकार करनी है लेकिन वह लागू सिर्फ बिजनेस अकाउंट पर होगा। निजी चैट और कॉल पूरी तरह से सुरक्षित हैं और निजी अकाउंट की जानकारी फेसबुक के साथ साझा नहीं की जाएगी।

Advertisement