मथुरा में मंदिरों के खुलने पर सस्पेंस, प्रशासन के साथ बैठक में नहीं निकला नतीजा

मथुरा: अनलॉक 1 में 8 जून से धर्मनगरी मथुरा में मंदिरो को खोलने की तैयारी हो रही है| हालांकि, 8 तारीख को मथुरा में मंदिर खुलेंगे या नहीं इसको लेकर प्रशासन और मंदिर समितियों के बीच सहमती नहीं बन पा रही है| दरअसल, बुधवार को मथुरा प्रशासन के साथ मंदिरों की सेवा एवं प्रबंध तंत्र के साथ बैठक आयोजित की गई| बैठक के दौरान मंदिरों को खोले जाने को लेकर असमंजस की स्थिति बनी रही| इस बैठक में बांके बिहारी मंदिर, रंगनाथ मंदिर, इस्कॉन द्वारकाधीश मंदिर प्रबंध तंत्र ने मंदिरों को खोलने पर आपत्ति जताई| वही, श्री कृष्ण जन्मस्थान मंदिर के प्रबंध तंत्र ने मंदिर खोलने को लेकर सहमति जताई| पूरी बैठक में मंदिर समितियों और प्रशासन के बीच ऊहापोह की स्थिति बनी रही|

सिटी मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने बताया उत्तर प्रदेश सरकार की गाइडलाइंस के बाद मथुरा की जिला अधिकारी ने एक समिति बनाई है| एसपी सिटी सहायक नगर आयुक्त सदस्यता वाली एक कमेटी गठित की गई है| मंदिर प्रबंध तंत्र से वार्ता करके रिपोर्ट जिलाधिकारी को पेश करेगी| इसी को देखते हुए वृंदावन और मथुरा के प्रमुख मंदिरों के प्रबंध तंत्र के साथ एक बैठक आयोजित की गई| ज्यादातर मंदिरों के प्रबंधन तंत्र में मंदिर खोलने पर असहमति जताई है|

गौरतलब है कि मथुरा, वृंदावन के मंदिरों में काफी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं| मंदिर खुलने के बाद हजारों की संख्या में श्रद्धालु मथुरा वृंदावन दर्शन करने के लिए आएंगे तो सोशल डिस्टेंस मेंटेन रखना और व्यवस्थाओं को देखना बड़ा मुश्किल होगा| इसको देखते हुए मंदिर प्रशासन मंदिरों को खोलने के मूड में नहीं दिख रहा है|

Advertisement