हरियाणा के इस जिलें के स्कूलों में शुरू हुआ परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य

सिरसा : सरकारी स्कूलों में परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य द्वितीय चरण में वीरवार को शुरू हो गया। स्कूलों में सुबह से ही कंप्यूटर अध्यापकों ने परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए डाटा अपलोड किए। स्कूलों में द्वितीय चरण के अंदर 12 सितंबर तक सिरसा, हिसार, फतेहाबाद, कैथल, भिवानी व चरखी दादरी में परिवार पहचान पत्र बनाए जाएंगे। गौरतलब है कि सरकारी स्कूलों में 25 अगस्त से परिवार पहचान पत्र बनाए जाने थे। स्कूलों में पहले साइट में तकनीकी खराबी होने से पहचान पत्र नहीं बनाए जा रहे थे। जिसको लेकर शिक्षा विभाग सभी जिलों में चरणों के हिसाब से परिवार पहचान पत्र बनाने का फैसला लिया। — स्टाफ ने ली राहत की सांस

सरकारी स्कूलों में सुबह से ही परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए साइट चलने लगी। जिससे परिवार पहचान पत्र बनाने वाले स्टाफ ने भी राहत की सांस ली है। इससे पहले साइट नहीं चलने से कंप्यूटर अध्यापकों व स्टाफ को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। स्कूलों के अध्यापक दिनभर साइट चलने का इंतजार करते थे। कई अध्यापक रात्रि के समय भी साइट पर फार्म अपलोड कर रहे थे। — तृतीय चरण में भी बनेंगे परिवार पहचान पत्र

शिक्षा विभाग द्वारा परिवार पहचान पत्र चरणों के हिसाब से बनाए जा रहे हैं। स्कूलों में 14 सितंबर से 16 सितंबर तक रोहतक झज्जर, सोनीपत, पानीपत, अंबाला में बनाए जाएंगे। 17 सितंबर से 19 सितंबर तक यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, नूंह, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ में बनाए जाएंगे। 21 सितंबर से 23 सितंबर तक गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, जींद व पंचकूला में बनाए जाएंगे। तृतीय चरण में 24 सितंबर से 26 सितंबर तक सिरसा, हिसार, फतेहाबाद, कैथल, भिवानी व चरखी दादरी, 28 सितंबर से 30 सितंबर तक रोहतक झज्जर, सोनीपत, पानीपत, अंबाला, 1 अक्टूबर से 3 अक्टूबर तक यमुनानगर, कुरूक्षेत्र, करनाल, नूंह, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ में बनाए जाएंगे।

स्कूलों में परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य शुरू हो गया है। स्कूलों में पहले साइट के अंदर तकनीकी खराबी से परिवार पहचान पत्र बनाने में दिक्कतें आ रही थी।

संतकुमार बिश्नोई, जिला शिक्षा अधिकारी, सिरसा।

Advertisement