दुकानदार ने ढूंडा कोरोना से बचने का तरीका, जानिए कैसे

फरीदाबाद : लोगों के लिए इस महामारी से बचना चुनौती बन गया है। ऐसे में शहर के दुकान संचालक भी ऐसे ऐसे तरीके ईजाद कर रहे हैं कि इससे बचाव कर सकें। एनआईटी विधानसभा के वॉर्ड-7 स्थित सारन रोड पर कंफेक्शरी और डेयरी आईटम की दुकान चलाने वाले संचालक ने एक कारगर तरीका खोजा है, जिससे वह ग्राहकों के संपर्क में आए बिना बिक्री कर सकें।

इसके लिए पहले उन्होंने शीशे की दीवार से अपनी दुकान को बंद करवाया और फिर शीशे में होल करवा कर उन्होंने दुकान के अंदर से लेकर बाहर तक एक मोटा पाइप लगा दिया, जिसमें वह सामान डाल देते हैं और वह ग्राहक तक पहुंच जाता है। भुगतान के लिए वह डिजिटल पेमेंट पर जोर दे रहे हैं। अगर कोई डिजिटल पेमेंट का इस्तेमाल नहीं करता है, तो उसके लिए अलग से पैसों का बॉक्स रखा है, जहां लोग खुद पैसे डाल सकते हैं। दुकानदार के इस प्रयास की क्षेत्र के ग्राहक जमकर तारीफ कर रहे हैं।

सारन रोड वॉर्ड नंबर 7 स्थित कमल कन्फेक्शनरी के नाम से डेयरी चलाने वाले कृष्ण कुमार दहिया ने बताया कि कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने का आइडिया उनके दिमाग में आया। वह बताते हैं, ‘मैं खुद बीपी और शुगर के मरीज हूं, तो मुझे भी अपने आप को संक्रमण से बचाना था। इसलिए मैंने अपनी दुकान को बाहर शीशे की दीवार से ढंक दिया और एक छेद कर मोटा पाइप लगा दिया। ताकि, दुकान के अंदर का सामान ग्राहक तक पहुंच जाए। वहीं, दुकान के बाहर एक माइक और लाउडस्पीकर भी लगाया है, ताकि लोग आएं तो माइक में बोलें, ताकि दुकान के अंदर आवाज आए। उन्होंने कहा कि उनके इस प्रयास को अगर शहर के सभी दुकानदार अपना लें, तो कोरोना जैसी महामारी उनके पास भी नहीं आ सकती है।’

कैश से बचने के लिए अपनाया ये तरीका

कृष्ण दहिया ने पैसे के लेनदेन के लिए दुकान के बाहर क्यूआर कोड लगा दिया है, ताकि लोग उसे स्कैन करके पेमेंट कर सकें। अगर कोई डिजिटिल पेमेंट नहीं दे सकता, तो कैश वहां रखे बॉक्स में पैसे डाल सकता है। वह अगले दिन इस बॉक्स को खोलते हैं और सैनिटाइज कर लेते हैं।

वही इस दुकान पर सामान लेने के लिए आने वाले कस्टमर बाहर लगे माइक के माध्यम से समान की डिमांड करते हैं, जिसे सुनकर दुकानदार अंदर से वह सामान पाइप के रास्ते से डाल देता है, जो बाहर खड़े ग्राहक के हाथ में पहुंच जाता है, जिसका भुगतान ग्राहक मोबाइल के जरिए उन्हें ऑनलाइन कर देता है और यदि कोई ग्राहक कैश देना चाहता है तो वह कैश बॉक्स मैं पैसा डाल कर भुगतान कर देता है, जिसे दुकानदार अगले दिन सैनिटाइज करके निकाल लेता है।

दुकानदार के इस आइडिया की सभी तारीफ कर रहे हैं । ग्राहकों का कहना था कि महामारी के दौर में दुकानदार का यह तरीका बहुत ही नायाब है इससे ग्राहक और दुकानदार दोनों ही संक्रमण से बच सकते हैं इसलिए दूसरे दुकानदारों को भी इसका अनुसरण करना चाहिए।

Advertisement