सासंद संजय भाटिया ने घृणित कार्य करने वाले लोगों की करी निंदा

इंडिया ब्रेकिंग/करनाल रिपोर्टर(ब्यूरो) करनाल 4 अप्रैल, जहां एक ओर पूरा देश कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से एकजुट होकर लड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर कुछ असमाजिक तत्व कोरोना से लडऩे मे सराहनीय कार्य कर रहे कोरोना योद्धाओं डाक्टरों व नर्सों को व अन्य सभी लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं। अपना व अपने परिवार की जान जोखिम में डाल कर कोरोना से संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे इन योद्धाओं के उपर थूक आदि डाल कर इनका मनोबल तोडऩे का काम कर रहे हं। हमें ऐसे कार्य करने वाले लोगों की निंदा करनी चाहिए और हमारे देश के दूरदर्शी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जुड़ते हुए कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाना चाहिए, ताकि इस वायरस से बचाव की मुहिम को बल मिल सके।

करनाल के सासंद संजय भाटिया ने ऐसे घृणित कार्य करने वाले लोगों की निंदा करते हुए कहा कि ऐसे लोगों को इस प्रकार के घृणित कार्यों से बाज आना चाहिए और इस संकट की घड़ी मे जो भी कोरोना वायरस से लडने मे सहयोग कर रहा है, उसका मान-सम्मान करना चाहिए और उसके द्वारा दिए जा रहे दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए, ताकि हम इस कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से जीतने में कामयाब हों।

सांसद संजय भाटिया ने ऐसे कार्य करने वाले असमाजिक तत्वों के खिलाफ फेसबुक व ट्विटर पर ट्वीट कर ऐसे लोगों की निन्दा करते हुए कहा है कि गत दिनों इन्दौर में जो कोरोना संक्रमित लोगों ने उनके इलाज के लिए आए डॉक्टरों व नर्सों के साथ मारपीट की है, वह बेहद शर्मनाक है और अति निन्दनीय है। उन्होंने कहा कि ऐसी ही कुछ घटनाएं दिल्ली व उत्तर प्रदेश में भी देखने को मिली हैं।

सांसद ने यह भी कहा कि डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होता है और वह बिना जातपात व अन्य किसी भेदभाव से हमारी रक्षा के लिए इस वैश्विक बीमारी से लडऩे में लगा है और हमारी देखरेख कर रहे हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए हमारा मानवीय दायित्व बनता है कि हम उन सभी का चाहे वह पुलिस, डाक्टर, नर्सों, प्रशासनिक अधिकारी व अन्य सभी धार्मिक, राजनैतिक व सामाजिक संस्थाओं का सहयोग करें, जो इस संकट की घड़ी मे हमारी सेवा के लिए कृत संकल्प हैं।

Advertisement