टिकट बुकिंग के लिए आज से खुले रिजर्वेशन काउंटर

नई दिल्ली ।  रेलवे ने आज से देशभऱ में आरक्षित टिकटों की बुकिंग के लिए अपने आरक्षित काउंटर खोल दिए हैं। रेलवे स्टेशन के टिकट काउंटरों पर आज लोगों ने रेल टिकट बुक करने के लिए लाइनें लगाईं। भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन के टिकट काउंटरों पर आज लोगों ने रेल टिकट बुक करने के लिए आरक्षण काउंटर और कॉमन सर्विस सेंटर पर लाइनें लगाई।

इससे पहले रेलवे ने जानकारी दी है वह आज से आरक्षित टिकटों की बुकिंग/कैंसिल डाकघरों, यात्री टिकट सुविधा केन्द्रों और आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंटों के साथ-साथ आरक्षण केंद्रों के यात्री आरक्षण प्रणाली काउंटरों और कॉमन सर्विस सेंटरों पर शुरू होगी।

आज से 1.75 लाख सामुदायिक सेवा केंद्रों से भी टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है। गौरतलब है कि आज से पहले आइआरसीटीसी(IRCTC) की वेबसाइट और एप से ट्रेन के टिकटों की बुकिंग हो रही है।

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर रेल रिजर्वेशन सेंटर के बाहर अभी से लोग लाइन लगा के खड़े हुए हैं। एक व्यक्ति ने बताया कि हमें जब कल रात को इसकी जानकारी मिली तो हम आज सुबह 4 बजे ही यहां आ गए। टिकट मिल जाएगा तो हम अपने घर जा सकेंगे।

भारतीय रेलवे 1 जून से (Indian Railways) 200 नई ट्रेनें चलाने जा रहा है। रेलवे ने पहली जून से 200 यात्री ट्रेनों की बुकिंग गुरुवार(21 मई) को शुरू कर दी है। इन ट्रेनों के लिए गुरुवार(21 मई) सुबह 10 बजे से शुरू हुई ऑनलाइन बुकिंग के पहले चार घंटों में ही 5.51 लाख टिकट बुक हो गए। टिकट बुकिंग की मारामारी के बीच रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि शुक्रवार से देश के लगभग पौने दो लाख सामुदायिक सेवा केंद्रों (सीएससी) से टिकट बुकिंग शुरू हो जाएगी।

रेलवे की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, जोनल रेलवे को स्थानीय जरूरतों और शर्तों के अनुसार आरक्षण काउंटर खोलने का निर्णय लेने और सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं। ये आरक्षण काउंटर चरणबद्ध तरीके से 22 मई से खुलेंगे, साथ ही अपने संबंधित स्थानों और स्थानीय समय के अनुसार सूचनाओं का प्रसार भी होगा।

इन सभी बुकिंग सुविधाओं को एक बार फिर से खोला जाना, यात्री रेल सेवाओं की श्रेणीबद्ध बहाली में एक महत्वपूर्ण कदम होगा। इससे आरक्षित ट्रेनों में भारत के सभी हिस्सों के संभावित यात्रियों के लिए टिकट बुकिंग का काम आसान हो जाएगा। मंत्रालय ने यह भी कहा कि क्षेत्रीय रेलवे को मानक शारीरिक दूरी दिशानिर्देशों का पालन करना होगा और कोविड-19 महामारी को देखते हुए स्वच्छता प्रोटोकॉल का भी पालन करना होगा।

Advertisement