धरना दे रहे पीटीआई अध्यापकों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Advertisement

------------- Advertisement -----------

जींद में धरना दे रहे बर्खास्‍त शिक्षकों पर लाठीचार्ज कर दिया गया। शिक्षकों के समर्थन में धमतान तपा के पूर्व प्रधान ने आत्‍मदाह की कोशिश की। पुलिस ने उन्‍हें पकड़ लिया। वहीं शिक्षकों ने विरोध करते हुए पुलिस से हाथापाई शुरू कर दी। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने लाठीचार्ज कर दिया।

दरअसल, लघु सचिवालय के बाहर बर्खास्त पीटीआइ के समर्थन में धरने पर बैठे धमतान तपा के पूर्व प्रधान रंगीराम ने शुक्रवार दोपहर बाद आत्मदाह का प्रयास किया। मौके पर मौजूद पुलिस ने उसे अपने शरीर पर तेल छिड़कते समय ही काबू कर हिरासत में ले लिया। इस दौरान रंगीराम के बचाव में आए पीटीआइ व दूसरे कर्मचारी संगठनों के लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया।

Advertisement

गीराम ने सरकार को बर्खास्त पीटीआइ शिक्षकों को बहाल नहीं करने पर आत्मदाह करने का अल्टीमेटम दिया हुआ था। रंगीराम के अल्टीमेटम को देखते हुए पुलिस पहले से ही धरना स्थल पर तैनात थी। दोपहर बाद रंगीराम धरना स्थल पर पहुंचे और गाड़ी से उतरते ही तेल निकाल कर अपने ऊपर डालने लगे। तभी मौके पर मौजूद पुलिस कर्मी ने उसे पकड़ लिया।

वहीं डीएसपी कप्‍तान ने बताया कि धमतान तपा के पूर्व प्रधान रंगीराम ने बर्खास्त पीटीआई के समर्थन में शुक्रवार को धरना स्थल पर आत्मदाह का प्रयास किया। लेकिन पुलिस ने उसे पहले ही पकड़ लिया। उन्‍होंने बताया कि रोहतक में रंगीराम ने आत्‍मदाह की चेतावनी दी थी। इसके बाद वह जींद आ गया। वह गाड़ी से उतरा और तेल डालकर आत्‍मदाह करने लगा। पुलिसकर्मियों ने उसे बचाया। वहीं रंगीराम को हिरासत में ले लिया गया। अभी भी शिक्षक पुलिस प्रशासन के विरोध में नारेबाजी कर रहे हैं।

Advertisement