हरियाणा में शुरू हुई रबी की फसलों को खरीदने की तैयारी, इस दिन से शुरू होगा पंजीकरण

चंडीगढ़। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि रबी फसलों की खरीद के समय किसानों को मंडियों में अपनी फसल बिक्री के दौरान किसी प्रकार की समस्या नहीं आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रबी फसलों की खरीद के लिए ‘मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर 11 जनवरी 2021 से पंजीकरण शुरू हो जाएगा।

डिप्टी सीएम, जिनके पास खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग का प्रभार भी है, ने गुरुवार को रबी सीजन 2021-22 की फसलों की खरीद के लिए अग्रिम तैयारियों हेतु अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी.उमाशंकर, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी.के दास, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह, मुख्यमंत्री की उप प्रधान सचिव आशिमा बराड़ समेत कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश में जौ की फसल का भी सर्वे करवाया जाए ताकि आवश्यक हो तो उसकी सरकारी खरीद किए जाने पर विचार किया जा सके। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट कहा कि रबी फसल के खरीद-सीजन 2021-22 के दौरान मंडियों में आने वाली फसल को यथाशीघ्र खरीद कर उसका उठान करवाया जाए ताकि मंडियों में फसल लेकर आने वाले किसानों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए किसान की फसल की खरीद होने के बाद उनकी पेमैंट निर्धारित अवधि में उनके बैंक खाता में ट्रांसफर हो जानी चाहिए। उन्होंने फसल की तुलाई से लेकर पैकिंग और ट्रांसपोर्ट किए जाने तक हर प्रक्रिया के बारे में तैयारियों की विस्तार से जानकारी ली तथा अपने सुझाव भी दिए।

ज्ञात रहे कि इस बार सरकार ने गेंहू का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रूपए प्रति क्विंटल, जौ का 1600 रूपए प्रति क्विंटल, चना व मसूर का रूपए प्रति क्विंटल, सरसों को 4650 रूपए प्रति क्विंटल तथा सूरजमुखी का 5327 रूपए प्रति क्विंटल न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया हुआ है।

Advertisement