पाकिस्तान: पुलिसवाले ने नाबालिग हिंदू लड़की को अगवा किया, इस्लाम कबुलवाकर किया निकाह

भारत में मुस्लिमों के साथ अत्याचार होने का प्रोपेगेंडा फैलाने वाले पाकिस्तान में हिंदुओं की स्थिति कितनी बुरी है यह किसी से छिपा नहीं है। ऐसा ही एक और मामला सामने आया है

जिससे पाकिस्तान के खोखलेपन की पोल खुल गई है। पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक पुलिसवाले ने नाबालिग हिंदू लड़की को अगवा कर लिया और उससे शादी करने से पहले जबरन इस्लाम कबूलवाया। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, नाबालिग बच्ची का नाम नीना कुमारी है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, नीना के पिता का नाम रमेश लाल है। यह परिवार सिंध प्रांत के नौशहरो जिले का रहने वाला है। नीना को गुलाम मरूफ कादरी नाम के पुलिसवाले अगवा किया। हैरानी की बात यह है कि आरोपी पुलिसवाले को इलाके में रह रहे अल्पसंख्यकों की सुरक्षा ड्यूटी में ही लगाया गया था।

नाम जाहिर न करने की शर्त पर सिंध के एक हिंदू नेता ने बताया कि नीना पिछले पांच दिनों से लापता था। जब नीना स्कूल से नहीं लौटी तभी उसके परिवार ने उसे खोजने की कोशिश की और उन्हें किडनैपिंग के बारे में पता लगा।

ऑल पाकिस्तान हिंदू पंचायत (APHP) के मुताबिक, कादरी ने 11 फरवरी को एक दरगाह पर नीना से जबरन इस्लाम कबुलवाया और निकाह से पहले उसका नाम बदल कर मारिया कर दिया। उसने कराची में पीड़िता से शादी की।

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे मैरिज सर्टिफिकेट पर सिर्फ पुलिसवाले की जन्मतिथि लिखी है और नीना को 19 साल का बताया है, जबकि नीना के परिवार का दावा है कि वह नाबालिग है।

सिंध के हिंदू नेता ने कहा, ‘इस मामले के बाद हम उन पुलिसवालों पर भी भरोसा नहीं कर सकते, जिन्हें हमारी सुऱक्षा में लगे हैं न तो सरकार से हमारे मंदिर के पास पहरेदारी बढ़ाने को कह सकते हैं।’

Advertisement