पुलिस अधिक्षक करनाल ने कोरोना से संबंधित सुरक्षा इंतजामों के बारे में बताया, हर संभव मदद का दिया भरोसा

इंडिया ब्रेकिंग/करनाल रिपोर्टर(ब्यूरो) 31 मार्च 2020 पुलिस अधिक्षक करनाल सुरेंद्र सिंह भौरिया ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि कोरोना महामारी पूरे संसार में फैला हुआ है। जो भारत में भी एक महामारी का रूप धारण कर चुका है। जिस कारण भारत में कोरोना पोजिटिव मरीजों की संख्यां रोजाना बढ रही है। इस कारण इस संक्रमण को रोकने के लिये करनाल पुलिस द्वारा जिले के सभी बार्डरों व जिले में भी दुरूस्त नाका बंदी की है। किसी भी व्यक्ति को बिना जरूरी कारण के नाका से नही निकलने दिया जा रहा है। ओैर सभी लोगों को घर में रहने की सलाह दी जा रही है।सुरेंद्र सिंह भौरिया ने बताया कि प्रवासी मजदूरों के रहने व खाने के सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं। प्रवासी मजदूरों के लिये करनाल के गांव कम्बोपुरा सहित सामुदायिक केंद्र व स्कूल में शैल्टर होम बनवाकर वहां ठहरने व खाने-पीने के इंतजाम करवाए गये हैं। उन्होने बताया कि आज तक इन शेल्टर होम में करीब 760 व्यक्ति रह रहे हैं। और ऐसे लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी नही आने दी जायेगी। भौरिया ने बताया की समाज सेवा में लगे लोग जैसे राशन वितरण, सब्जी वितरण व अन्य सेवाओं में लगे लोगों को प्रशासन द्वारा पास जारी किये जा रहे हैं। बिना पास के किसी भी समाज सेवी/वॉलिंटियरों को कोई भी छूट नही दी जायेगी। ना ही जिले में लगे नाकों से उनको गुजरने दिया जायेगा। इसलिये ऐसी समाज सेवी संस्थाऐं/ वॉलिंटियरस जल्दी से जल्दी अपने-अपने पास करनाल प्रशासन से जारी करवाएं।पुलिस अधिक्षक ने कहा कि कृषि से संबंधित, दूध से बने प्रोडक्ट, खाद बीज, कृषि कीटनाशक बनाने वाली कम्पनियों पर भी किसी प्रकार की कोई पाबंदी नही है। जरूरी सेवाओं के लिये जिन दुकानों आदि को प्रशासन द्वारा लाईसेंस जारी किये गये वो सभी दुकानें सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक ही खुली रहेंगी। आदेशों की पालना ना करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जायेगी।लॉक डाउन के संबंध कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही करते हुये अब तक करनाल पुलिस द्वारा कुल 359 वाहनों को जब्त किया गया है। व 29 व्यक्तियों को गिरफतार किया जा चुका है। व ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही करते हुये करनाल पुलिस द्वारा 20 मुकदमें दर्ज किये जा चुके है। व आगे भी कानून की उल्लंघना करने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटा जायेगा। व लोगों को घरों में रहकर कोरोना से बचे रहने की सलाह दी।

Advertisement