दिल्ली में अब इतना हुआ कोरोना मामलों का आंकड़ा

वैश्विक महामारी बने कोरोना वायरस के मामले राजधानी दिल्ली में दिन-प्रतिदिन काफी तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है।

न्यूज एजेंसी पीटीआई ने बताया कि शुक्रवार को पिछले 24 घंटों में 183 नए मामले दर्ज किए गए, जो दिल्ली के लिए एक दिन में मिलने वाले अब तक के सबसे अधिक मामले हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, राजधानी दिल्ली में अब तक कुल 941 कोरोना वायरस के मामले हैं, जिनमें से 13 लोगों की मौत हो गई है और 25 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ्य भी हुए हैं। वहीं, 903 संक्रमित मरीज अब भी अस्पतालों में भर्ती हैं।

कुल 903 मरीजों में से 584 मरीज निजामुद्दीन मरकज से जुड़े हुए हैं तो वहीं 269 वो मरीज हैं जिन्होंने या तो खुद विदेश यात्रा की है या उनके परिवार में कोई विदेश से लौटा है। 50 मरीजों की जांच अभी जारी है।

अब तक 30 हॉटस्पॉट सील

दिल्ली में कोरोना का संक्रमण फैलता जा रहा है। शुक्रवार को सात नए हॉटस्पॉट को सरकार ने सील करने का आदेश दे दिया है। अब दिल्ली में कुल 30 हॉटस्पॉट को सील कर दिया गया है। इसी के साथ अब लुटियन दिल्ली के अलावा दिल्ली के सभी जिलों में हॉटस्पॉट सामने आ चुके हैं। मगर सरकार की चिंता वे इलाके हैं जहां पर घनी आबादी रहती है।

दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना के 183 नए मरीज मिले हैं, जबकि दो मरीजों की मौत हो गई। दिल्ली में जो सात नए हॉटस्पॉ़ट पहचाने गए हैं उनमें सबसे अधिक पश्चिमी दिल्ली के तीन अशोक नगर, पश्चिम विहार और मोती नगर शामिल है। इसके अलावा पुरानी दिल्ली के नबी करीम, चांदनी महल इलाके से यह हॉटस्पॉट मिले हैं। ओखला इलाके में जाकिर नगर में हॉटस्पॉट के साथ बफर जोन भी बनाया है। जहां पर सीमित पाबंदियों के साथ लोगों की आवाजाही होगी। इसके अलावा एक नया इलाका बाहरी दिल्ली का है।

घनी आबादी वाले इलाके चिंता का विषय : सरकार के लिए हॉट स्पॉट चिन्हित गए इलाकों घनी आबादी वाले इलाके ज्यादा चिंता का विषय है। यहां पर संक्रमण तेजी से फैल सकता है। इसमें निजामुद्दीन के बाद नबी करीम, चांदनी महल और जाकिर नगर का इलाका है। यही कारण है कि सरकार यहां पर हॉट स्प़ॉट के चारों तरफ बफर जोन भी बना रही है। जिससे हॉटस्पॉट के अलावा उसके चारों तरफ सटे इलाके में कुछ सीमित पाबंदियां होंगी।

 

Advertisement