अब इस नए नाम से रखा जा सकता है फिरोजाबाद का नाम, जिला पंचायत ने पास किया प्रस्ताव, पढ़ें पूरी खबर

फिरोजाबाद. उत्तर प्रदेश में अब एक और शहर का नाम बदलने जा रहा है. जी हां, फिरोजाबाद का नाम चंद्रनगर करने का प्रस्ताव यहां जिला पंचायत ने पास कर दिया है. शनिवार को जिला पंचायत कार्यालय सभागार में हुई बोर्ड की बैठक में यह प्रस्ताव रखा गया, जिसे पास कर राज्य सरकार को भेजा गया है. बोर्ड की बैठक जिला पंचायत अध्यक्ष हर्षिता सिंह की अध्यक्षता में हुई. शहर का नाम बदलने के प्रस्ताव का ध्वनिमत से अनुमोदन किया गया.

इससे पहले जिला पंचायत बोर्ड की बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 की कार्ययोजना पर विचार-विमर्श किया गया. इसके लिए सभी सदस्यों से आग्रह किया गया कि वह अपने-अपने क्षेत्र के विकास कार्याें के प्रस्ताव बोर्ड को उपलब्ध कराएं. इसके बाद बैठक में ब्लॉक प्रमुख लक्ष्मी नारायण यादव ने फिरोजाबाद शहर का नाम चंद्रनगर रखने का प्रस्ताव रखा. उन्होंने कहा कि पूर्व में जनपद फिरेाजाबाद का नाम चन्द्रनगर था, जिसको बाद में फिरोजाबाद कर दिया था. उन्होंने कहा कि नाम बदलने का प्रस्ताव सदन में पास होकर शासन को विचार के लिए भेजा जाए, जिसे सदन ने ध्वनिमत से पास किया. अब यह प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा.

बैठक के दौरान सदन की सर्वसम्मति से जिला पंचायत में विधिक परामर्श दाता की नियुक्त किए जाने का अधिकार जिला पंचायत अध्यक्षा को दिया गया. जिला पंचायत अध्यक्ष हर्षिता सिंह ने सदन के सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जिला पंचायत जनपद के हर क्षेत्र में गुणवत्ता के साथ मानकों के अनुसार विकास कार्य कराएगी. बैठक शुरू होने से पहले संचालक ने सभी जनप्रतिनिधियों का स्वागत किया और बैठक के एजेंडे को सबके सामने रखा.

नाम बदलने पर क्या कहते हैं इतिहासकार

फिरोजाबाद का नाम चंद्रनगर रखे जाने को लेकर शहर के इतिहासकार अनूप चंद जैन बताते हैं कि इसका नाम प्राचीन नाम चंदवाड़ था. सन् 1566 में मुगल बादशाह अकबर के मनसबदार फिरोज शाह के यहां आने के बाद नाम फिरोजाबाद पड़ा. उन्होंने बताया कि राजा टोडरमल इस शहर से तीर्थयात्रा को गए थे, तब शहर को लूट लिया गया था. उनके अनुरोध पर शहंशाह अकबर ने अपने कारिंदे फिरोज शाह को यहां भेजा, जिसके नाम पर बाद में इस शहर को जाना जाने लगा. यहां नगर निगम के सामने फिरोज शाह का मकबरा भी है.

Advertisement