अब डेयरियों का कटेगा 10 हजार का चालन, जानिए क्यों

रोहतक-  जिले में एक बार फिर डेयरियों की शिफ्टिंग को लेकर नगर निगम ने एक्शन प्लान तैयार कर  लिया है। आपको बतादे कि शहर में चल रही डेयरियों से निकलने वाली गंदगी की वजह से सीवर का ड्रेनेज सिस्टम पूरी तरह से ठप हो रहा है। वही सीवर लाइन बंद होने से गंदा पानी सड़क पर ओवरफ्लो होता है, तो कहीं सीवर लाइन जाम रहती है। अब फिर से नगर निगम ने शहर में चल रही डेयरियों को सख्ती से कन्हैली रोड पर शिफ्ट करने का एक्शन प्लान तैयार किया है।

डेयरी फ़ार्म बिजनेस खोलने की जानकारी। How to start a Dairy Farming Business.

इसको लेकर निगम कमिश्नर ने अधीनस्थों और पब्लिक हेल्थ के साथ बैठक की है। निगम और पब्लिक हेल्थ की टीमें दो अक्तूबर से शहर में चलने वाली डेयरियों पर भारी जुर्माना लगाएंगी। जुर्माना कम से कम 10 हजार रुपये रोजाना के हिसाब से लगेगा।जुर्माना तब तक लगेगा जब तक डेयरी को बाहर शिफ्ट नहीं किया जाएगा।तब तक किसी को भी रियायत नहीं दी जाएगी।

करिए डेयरी फार्मिंग की चार हफ्ते की ट्रेनिंग, प्रशिक्षण के बाद लोन भी देगी  सरकार | Dairy Today

नगर निगम कई बार शहर के बीचोंबीच चल रही करीब 570 छोटी-बड़ी डेयरियों को बाहर शिफ्ट करने की दिशा में प्रयास कर चुका है मगर संतोषजनक परिणाम नहीं आ सके हैं। नगर निगम ने डेयरियों को शिफ्ट करने के लिए कन्हैली रोड पर करीब 35 एकड़ जमीन पर डेयरी कॉम्पलेक्स बनवाया हुआ है। तमाम डेयरी संचालकों ने कॉम्पलेक्स में जमीन तो आवंटन करा ली मगर शिफ्ट नहीं हुए। आंकड़ों पर नजर डाले तो सिर्फ 82 डेयरी ही शिफ्ट हो सकी है।

Advertisement