बीपीएल राशन कार्ड होने पर भी नही मिल रहा राशन, विभाग ने भी नही सुनी इनकी फरियाद

रेवाड़ी : लॉकडाउन में सरकार द्वारा बीपीएल कार्डधारकों को 3 महीनों तक फ्री राशन देने की घोषणा की गई थी। सरकारी आदेशों के बावजूद गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों को लॉकडाउन में फ्री राशन योजना का फ़ायदा नहीं दिया गया।

रेवाड़ी जिला के गांव रामपुरा में लॉकडाउन के दौरान बीपीएल कार्डधारियों को तीन महीनों तक दिए जाने वाले राशन का लाभ पहले महीने अप्रैल में ही डिपों धारक द्वारा नहीं दिया गया। जिसकी शिकायत भी ग्रामीणों द्वारा संबंधित विभाग को की गई। उसके बावजूद भी इनकी फरियाद पर खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने संज्ञान नहीं लिया।

गांव रामपुरा निवासी 62 वर्षीय रोहतास ने बताया कि अधिकारियों की मिलीभगत से डिपों धारक उनका राशन लगातार डकार रहा है। अगर कोई भी इसके ख़िलाफ़ आवाज उठाता है तो उसका राशन बीपीएल सूची से कटवा दिया जाता है। रोहतास के अनुसार ग्रामीणों की मांग है कि इस डिपों को रद्द कर दिया जाना चाहिए।

खाद्य आपूर्ति विभाग की टीम आज गांव रामपुरा में पहुंची और करीब 40 बीपीएल कार्डधारियों के बयान दर्ज कर रिपोर्ट विभाग को सौंपी गई है। आपको बता दें कि गांव रामपुरा केंद्रीय मंत्री राव इंदजीत सिंह का पैतृक गांव है। अब देखना होगा कि गांव रामपुरा के गरीब परिवारों को लॉकडाउन में सरकार द्वारा दिए जाने वाले फ्री राशन योजना का लाभ मिल पाएगा या नहीं यह तो खाद्य आपूर्ति विभाग की जाँच रिपोर्ट ही बताएगी।

Advertisement