ग्रैंड शो के साथ 24 सितम्बर से शुरू हो रही नाईट मार्किट, मिलेंगी खाने-पीने की ये चीजे, उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने ली मीटिंग, वैंडर्स भी हुए शामिल।

करनाल 17 सितम्बर, सेक्टर-12 स्थित सुपर मॉल के साथ खाली पड़ी जगह पर करनाल स्मार्ट सिटी की ओर से नाईट मार्किट आगामी 24 सितम्बर शुक्रवार को एक ग्रैंड शो यानि शानदार प्रदर्शन के साथ शुरू होने जा रही है। उपायुक्त एवं करनाल स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सीईटो निशांत कुमार यादव ने शुक्रवार को इसे लेकर स्मार्ट सिटी अधिकारियों के साथ एक मीटिंग कर निर्देश दिए कि 24 से पहले-पहले सभी तैयारियां व सिविल वर्क मुकम्मल कर लें। इसके लिए बैठने की व्यवस्था, डस्टबिन व नाईट स्वीपिंग का इंतजाम हो जाना चाहिए, जबकि बिजली-पानी व रोशनी की व्यवस्था पहले ही हो चुकी है। मीटिंग में वैंडर्स भी शामिल हुए।

नाईट मार्किट का कॉन्सैप्ट ना लाभ-ना हानि के आधार पर – मीटिंग में उपायुक्त ने बताया कि नाईट मार्किट का कॉन्सैप्ट इसलिए लिया गया था कि शहर के नागरिकों को एक ही जगह पर चाट, फास्ट-फूड और नॉन-वैज जैसे व्यंजन उपलब्ध हों। इसके बाद इसकी प्लानिंग करके मार्किट में लगने वाले कार्ट का डिजाईन तैयार करवाया गया, यानि सभी कार्ट या काउंटर समरूपता में हों। वैंडरों के साथ मीटिंग की गई और उन्होंने कार्ट तैयार करवाए। अब इनकी मार्किट की शुरूआत होने जा रही है। शुरू में 15 से 20 कार्ट मार्किट में लग जाएंगे, इन्हें देखकर जल्द से जल्द इनकी संख्या बढऩी स्वभाविक है।

मीटिंग में उपायुक्त ने स्पष्ट कर दिया कि जिन वैंडरो की कन्फर्मेशन आ गई है, वह छूट के साथ यानि 30 सितम्बर तक अपना कार्ट तैयार करवा सकते हैं। लेट-लतीफी से आने वाले वैंडरों से एक्ट्रा चार्जिज लिए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि नाईट मार्किट के पीछे स्मार्ट सिटी लिमिटेड का कोई लाभ कमाने का उद्देश्य नहीं, बल्कि यह था कि नागरिकों को एक जगह पर फास्ट-फूड जैसी चीजें मुहैया करवाने की सहूलियत दी जाए।

इसके लिए स्मार्ट सिटी का जो खर्चा होगा, वह वैंडरों से जायज रैंट वसूल कर पूरा कर लेंगे। ज्यों-ज्यों काम बढ़ेगा, उसी तरीके से सुविधाओं में भी इजाफा करते रहेंगे। सब कुछ नियोजित तरीके से चलेगा, ताकि नाईट मार्किट सफलतापूर्वक चलती रहे। उन्होंने बताया कि नाईट मार्किट प्रदेश के जिन शहरों में है, वह बहुत ही कामयाब हैं और उनमें नागरिकों की चहल-पहल बनी रहती है।

नाईट मार्किट में वैज-नॉन वैज फूड मिलेंगे, क्वालिटी की होंगी चीजें- उपायुक्त ने बताया कि नाईट मार्किट में वैज व नॉन वैज दोनो तरह के फूड मिलेंगे, कोल्ड ड्रिंक जैसे पेय भी होंगे। अकेले आएं या परिवार के साथ, अपनी मनपसंद चीजें खाकर मन बहलाएं, सुरक्षा को लेकर कोई खतरा नहीं। नाईट मार्किट में रोशनी व बैठने की पर्याप्त व्यवस्था होगी, म्यूजिक सिस्टम भी हो सकता है। कस्टमर और वैंडर के बीच शिष्टाचारक व्यवहार रहेगा। एक से बढ़कर एक वैरायटी होगी। क्वालिटी की चीजों को देख ग्राहक खींचे चले आएंगे। मिल्क प्रोडक्ट्स का स्वाग चखना हो, तो वीटा का बूथ भी रहेगा।

नाईट मार्किट की शुरूआत पर होगा ग्रैंड शो- मीटिंग में उपायुक्त ने बताया कि 24 सितम्बर की सांय को नाईट मार्किट के समय राहगिरी जैसे मनोरंजक कार्यक्रम किए जाएंगे। स्कूली बच्चों की विजिट भी हो सकती है, यानि अच्छी-खासी चहल-पहल के साथ इसका आगाज करेंगे। उन्होंने कहा कि नागरिक अपनी मनपंसद चीजें खाने के लिए नाईट मार्किट में आमंत्रित हैं।

मीटिंग में भिन्न-भिन्न नाम वाले फास्ट-फूड विक्रेता/वैंडर हुए शामिल- बता दें कि आज की मीटिंग में चाट मेकर, मैक पीजा, किंग क्लासिक, हॉट मिलियन, सोयाबीन चाप, किचन वूड्स तथा ड्रम्स ऑफ हैवन नाम से फूड बेचने वाले अच्छे-खासे फास्ट-फूड विक्रेता शामिल हुए। नाईट मार्किट को लेकर सभी उत्साहित दिखाई दिए। केएससीएल के जीएम रमेश मढान, स्पोर्ट इंजीनियर मोहन शर्मा, पीएमसी प्रवीन झा और उनकी टीम के मैम्बर भी मौजूद रहे।

Advertisement