हरियाणा बोर्ड का नया नियम, अब 10वीं-12वीं में छात्र नहीं बदल सकेंगे स्कूल

हरियाणा बोर्ड ने क्लास 10वीं और 12वीं के लिए जरूरी नियम लागू किया है। नए नियम के अनुसार, इस शैक्षणिक सत्र से छात्र सीधे किसी अन्य स्कूल की कक्षा 10 या 12 में प्रवेश नहीं ले सकता है, बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन हरियाणा BSEH ने इससे संबद्ध सभी सरकारी और निजी स्कूलों के लिए एक आदेश जारी किया है।

हालांकि, बोर्ड विशेष मामलों पर विचार करेगा। उदाहरण के लिए, यदि किसी छात्र को दूसरे स्कूल में प्रवेश की आवश्यकता है क्योंकि परिवार ने शहरों को स्थानांतरित कर दिया है, तो इस स्थिति में छात्र को वैध दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे। यदि परिवर्तन शैक्षणिक कारणों से उसी जिले के भीतर है, तो छात्र और अभिभावक को बोर्ड को इसकी व्याख्या करनी होगी, जो पृष्ठभूमि की जांच करेगा और तदनुसार स्वीकृति देगा।

बोर्ड के अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि यह कदम सीबीएसई मॉडल को दोहराने के लिए है, जो समान नियमों का पालन करता है। बीएसईएच के अध्यक्ष वेद प्रकाश यादव ने टीओआई को बताया, स्कूलों को सत्र की शुरुआत में ही अपने सभी प्रवेश विवरण जमा करने होंगे और बोर्ड को बिना किसी अपवाद के हर कदम पर लूप में रहना होगा। इसके अलावा, बोर्ड परीक्षा के लिए पंजीकरण के दौरान स्कूल छोड़ने वाले प्रमाण पत्र और प्रमाण पत्र में पाई गई विसंगतियों के कारण बोर्ड ने निर्णय लिया है।

Advertisement