उन्नाव कांड: दलित किशोरियों की हत्या मामले मे बड़ा खुलासा, एक तरफा प्यार में वारदात को दिया था अंजाम

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में दलित किशोरियों की हत्या मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए 2 युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार एक तरफा प्यार में वारदात को अंजाम दिया गया है। तीनों लड़कियां आरोपी लड़कों को भली-भांति जानती थी।

इनका खेत मृतकाओं के बगल में था। आरोपियों ने गेंहू में रखने वाली दवा खिलाई थी। जानकारी के अनुसार दोनों आरोपी बेहोशी की हालत में किशोरियों से संबंध बनाना चाहते थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी पॉइजनिंग की पुष्टि हुई है।

एक मुख्य आरोपी विनय है, दूसरा नाबालिग है

बता दें कि आज गांव के मुखबिर ने पुलिस को सूचना दी कि घटना के दिन दो युवकों को खेतों से भागते हुए देखा था। मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने शुक्रवार को पाठक पुरा चौराहे से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार दोनों आरोपियों में एक मुख्य आरोपी विनय है, दूसरा नाबालिग है। दोनों आरोपी एक धनुक जाति का एक रावत जाति का है।

Image result for उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में दलित किशोरियों की हत्या मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा

लॉकडाउन में हुई थी दोस्ती

लॉकडाउन में तीनों लड़कियों की आरोपितों से दोस्ती हुई थी। एक लड़की ने प्रपोजल ठुकरा दिया था। मोबाइल नंबर भी नहीं दिया था। वारदात की दोपहर तीनों लड़कियों और दो लड़कों ने साथ चिप्स खाए थे। पुलिस कॉम्बिंग के दौरान घटना स्थल से चिप्स का पैकेट भी मिला था।

विनय जहर मिला पानी सिर्फ उस लड़की को देना चाहता था, जिसे वो प्यार करता था, लेकिन बाकी दोनों ने पानी छीनकर पी लिया। दहशत में दोनों लड़के वहां से भाग निकले। पुलिस ने सीडीआर और सर्विलांस से घटना का पता लगाया।

घर से चारा लाने खेत गई किशोरियों से बर्बरता

गौरतलब है कि बबुरहा गांव में 17 फरवरी को एक ही परिवार की 15, 14 और 16 साल की 3 लड़कियां अपराह्न करीब 3 बजे जानवरों के लिए चारा लेने घर से निकली थीं। देर शाम तक वापस ना आने पर परिजनों ने उनकी तलाश की तो वे तीनों गांव के बाहर खेत में बेसुध पड़ी मिलीं। वे एक दुपट्टे से बंधी हुई थीं।

Image result for उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में दलित किशोरियों की हत्या मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा

जिनमें से 2 लड़कियों की मौत हो गई और तीसरी लड़की को गंभीर हालत में उन्नाव जिला अस्पताल लाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे कानपुर रेफर कर दिया गया था। जिसकी उसकी हालत में अब सुधार हो रहा है।

Advertisement