1 जून को केरल, 8 को मुंबई, जानिए आपके राज्य को लेकर क्या है मॉनसून का अलर्ट

मई महीने के खत्म होने के साथ ही कई राज्यों में लोगों को झुलसा देने वाली गर्मी से निजात मिलने के आसार दिख रहे हैं| जल्द ही पूरे भारत में मॉनसून अपना असर दिखाना शुरू करने वाला है| मौसम विभाग के मुताबिक सबसे पहले मॉनसून केरल में एंट्री करेगा| यहां उसके प्रवेश करने का समय 1 जून बताया जा रहा है| यानी मई खत्म होते ही केरल में मॉनसून की बारिश शुरू हो जाएगी| वहीं, दिल्ली तक पहुंचने में इसे समय लग सकता है| मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में मॉनसून की एंट्री 25 से 30 जून के बीच होने की संभावना है|

भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक चक्रवाती स्थिति बनने की वजह से दक्षिण पश्चिम मॉनसून केरल में एक जून को दस्तक दे सकता है| इससे पहले मौसम विभाग ने 15 मई को जारी अपने पूर्वानुमान में कहा था कि मॉनसून 5 जून को दक्षिणी राज्य में आ सकता है| यह मॉनसून की सामान्य तिथि से 4 दिन बाद की तारीख है|

केरल में आमतौर पर एक जून को मॉनसून दस्तक दे देता है| बहरहाल, बंगाल की खाड़ी पर चक्रवाती स्थिति बनने के कारण मॉनसून की प्रगति में मदद मिलने की संभावना है| विभाग ने कहा, ‘दक्षिण पूर्व और सटे हुए पूर्व मध्य अरब सागर में 31 मई से चार जून के दौरान कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है| यह स्थिति केरल में एक जून को मॉनसून लाने के लिए अनुकूल है| मौसम विभाग ने इस बात की भी जानकारी दी है कि इस वर्ष देश में सामान्य बारिश होगी|

It's Raining Pictures

किस राज्य में कब आ सकता है मॉनसून?

केरल में एक जून को मॉनसून आ सकता है| इसके बाद आगे बढ़ते हुए 5 जून को गोवा, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, असम और पूर्वोत्तर के राज्यों में दस्तक दे सकता है| मौसम विभाग के मुताबिक 10 जून को मॉनसून महाराष्ट्र, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में प्रवेश कर सकता है| इसके अलावा गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, झारखंड और बिहार में 15 को मॉनसून के पहुंचने की संभावना जताई जा रही है|

monsoon_052920125702.jpg

मौसम विभाग के मुताबिक मध्य प्रदेश के उत्तरी हिस्सों में, पूर्वी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में 20 जून को मॉनसून दस्तक दे सकता है| हालांकि, 25 जून तक पूरे उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, गुजरात और हिमाचल में मॉनसून के छा जाने की संभावना है| यानी उत्तर प्रदेश और गुजरात में जून के अंत में जबरदस्त बारिश हो सकती है|

Advertisement