हरियाणा की अर्जुन पुरुस्कार विजेता से दिल्ली एयरपोर्ट पर बदसलूकी

झज्जर। हरियाणा की अर्जुन अवार्डी अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज मनु भाकर से दिल्ली एयरपोर्ट पर बदसलूकी की खबर सामने आई है। मनु का आरोप है कि उनके साथ आइजीआइ एयरपोर्ट पर बदसलूकी की गई। वह प्रशिक्षण के लिए एयर इंडिया की उड़ान से भोपाल जाने के लिए एयरपोर्ट पहुंची थी। उन्हें विमान में नहीं चढ़ने दिया गया। उनके साथ बदसलूकी की गई।

वहीं, एयरलाइंस के अधिकारी ने उनसे 10,200 रुपये मांगे। जिसके बाद उन्होंने एक के बाद एक पांच ट्वीट किए। ट्वीट को खेल मंत्री किरन रिजीजू, नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी सहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को भी टैग किया।

हालांकि खेल मंत्री के हस्तक्षेप के बाद उन्हें यात्रा करने दिया गया। इसपर उन्होंने सभी को धन्यवाद भी दिया। उधर एयर इंडिया प्रवक्ता ने आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि अधिकारी सिर्फ उनसे वैध दस्तावेज की जानकारी ले रहे थे।

निशानेबाज मनु भाकर का एयर इंडिया की उड़ान संख्या एआई-437 का भोपाल का टिकट बना हुआ था। यात्रा के लिए वह शुक्रवार की रात आइजीआइ एयरपोर्ट पर पहुंची थीं। लेकिन उन्हें विमान में जाने से रोक दिया गया। दरअसल उनके पास दो गन और कारतूस इत्यादि थे। इस संबंध में उनके पास पर्याप्त कागजात भी थे।

मनु भाकर का आरोप है कि दस्तावेज को एयरपोर्ट पर एयर इंडिया के अधिकारियों ने नहीं माना और उसके साथ बदसलूकी की। इस घटना का जिक्र उन्हें अपने ट्वीट में किया। निशानेबाज ने ट्वीट में लिखा कि एयरलाइंस के इंचार्ज मनोज गुप्ता और साथियों ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया और उनसे 10,200 रुपये की मांग की। उन्होंने बताया कि भोपाल के एमपी शूटिंग एकेडमी में वह प्रशिक्षण के लिए जा रही थीं। इसके लिए साथ में गन और कारतूस ले जाना जरूरी था। लेकिन उन्हें यात्रा करने से रोका गया।

एक ट्वीट में उन्होंने एयर इंडिया के अधिकारियों से खिलाड़ियों को अपमान न करने और सम्मान देने का निवेदन किया। मनु ने बताया कि डीजीसीए का परमिट दिखाने के बावजूद उनसे रुपये मांगे गए। जिसके बाद मनु ने किरन रिजीजू और हरदीप सिंह पुरी को टैग कर लिखा कि वह इंतजार कर रही है।

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि मनोज गुप्ता उनसे ऐसा बर्ताव कर रहे हैं जैसे वे कोई अपराधी हो। उन्होंने एयरलाइंस को कर्मियों को यात्रियों से कैसे बात की जाए इसका प्रशिक्षण भी देने का सुझाव दिया। इसी बीच खेल मंत्री के हस्तक्षेप के बाद मनु भाकर को यात्रा की अनुमति दे दी गई। जिसके बाद उन्होने ट्वीट कर काल मंत्री को शुक्रिया कहा।

मूल रूप से हरियाणा, झज्जर की रहने वाली मनु भाकर अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज हैं। एयर पिस्टल प्रतिस्पर्धा में अंतरराष्ट्रीय व राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। स्वर्ण जीतने वाली वह भारत की सबसे कम उम्र की खिलाड़ी हैं। वर्ष 2020 में उन्हें अर्जुन पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

Advertisement