हरियाणा में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने से हटेंगी मैनुअल फाइलें, अब इस तरीके से होगा काम

कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के खतरे के मद्देनजर हरियाणा सरकार सरकारी कार्यालयों को ई-ऑफिस कल्चर से लैस करने जा रही है। जिसके तहत कार्यालयों की तमाम मैनुअल फाइलें हटेंगी और ऑनलाइन डिजिटल फाइलें मूव करेंगी। पहले चरण में पंचकूला और चंडीगढ़ स्थित सभी सरकारी कार्यालयों के मुख्यालयों में कामकाज को ई-ऑफिस में तब्दील किया जाएगा। जबकि दूसरे चरण में सभी जिलों के कार्यालयों में ई-ऑफिस की शुरुआत की जाएगी।

सरकार की मुख्यमंत्री गुड गवर्नेंस एसोसिएट्स विंग की निगरानी में इस प्रोजेक्ट को लागू किया जाएगा। एनआईसी द्वारा इस सॉफ्टवेयर को डेवलप किया गया है। जबकि हरियाणा आईटी विभाग के अंतर्गत हारट्रोन इस प्रोजेक्ट की टेक्निकल नोडल एजेंसी होगी। चरणबद्ध तरीके से सभी कार्यालयों के निदेशकों और इसके लिए नियुक्त किए गए 11 नोडल अफसरों को इसकी ट्रेनिंग देने का काम शुरू कर दिया गया। सीएम गुड गवर्नेंस एसोसिएट्स प्रोजेक्ट डायरेक्टर राकेश गुप्ता की अध्यक्षता में विशेषज्ञों की टीम सरकारी कार्यालयों के अफसरों को इसकी ऑनलाइन व मैनुअल ट्रेनिंग दे रही है।

प्रोजेक्ट डायरेक्टर राकेश गुप्ता ने बताया कि ई-ऑफिस कल्चर को डेवलेप करना मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है। जिसे पूरा करने के लिए विभाग पूरी शिद्दत से जुटा हुआ है। सभी विभागों में इसके लिए नोडल अफसर भी बनाए जा रहे हैं। जो इसे अपने-अपने कार्यालयों में क्रियान्वित करवाएंगे।

Advertisement