करनाल: पत्नी और सौतेली बेटी को लेकर बाइक सहित नहर में कूदा युवक खुद तैर कर निकला बाहर, पत्नी की मौत, बेटी लापता, जाने पूरा मामला

करनाल: गांव किरमिच के पास नरवाना ब्रांच नहर में एक बाइक सवार दंपती व बेटी नहर में जा गिरे। पहली नजर में यह हादसा ही लगा। युवक खुद तैरकर निकल आया, लेकिन बेटी व पत्नी पानी के तेज बहाव में बह गए। आसपास मौजूद लोगों ने कुछ दूरी पर पत्नी को बाहर निकाला, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी।

बेटी का पता नहीं चला। इसके बाद बिना पुलिस व मायके वालों को सूचित किए, पति व उसके परिजनों ने अंतिम संस्कार भी कर दिया। पता चलने पर मायके पक्ष से मृतका की बहन ने पुलिस को सूचित किया। इसके बाद पुलिस को भी शक हुआ। बहन की शिकायत पर पुलिस ने पति, सास ससुर समेत 7 लोगों पर हत्या के आरोप में केस दर्ज किया है। गुरुवार शाम को पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया। मृतका की शिनाख्त 39 वर्षीय शैली निवासी करनाल के रूप में हुई। 21 वर्षीय बेटी तान्या लापता है।

पत्नी और सौतेली बेटी को लेकर नहर में कूदा युवक।

सीधी गिराई बाइक, नहर में मारी लात : बुधवार दोपहर को मूलरूप से निगदू निवासी 26 वर्षीय राजकुमार अपनी पत्नी शैली व सौतेली बेटी को बाइक पर लेकर नहर किनारे पहुंचा। जब तक पीछे बैठी पत्नी व बेटी समझ पाते, किरमिच में नहर पुल के पास उसने बाइक को नीचे गिरा दिया। उस वक्त एक बुजुर्ग भी कुछ ही दूरी पर था। पहले लगा हादसा है। देखा कि तीनों डूब रहे हैं। युवक ने दोनों को लात भी मारी।

पहले लगा शायद अपनी जान बचाने के लिए ऐसा किया। बाहर निकल कर उसने फोन निकाला। फिर ड्रामा शुरू कर दिया। भट्टे पर काम करने वाले लोग भी पहुंच गए। उन्होंने कुछ दूरी पर शैली को खोज निकाला, लेकिन तान्या नहीं मिल पाई। कुछ देर बाद परिजन पहुंचे। शव लेकर गांव चले गए। जहां उसका आनन फानन में संस्कार भी कर दिया। पुलिस ने उक्त बुजुर्ग चौकीदार को खोज निकाला तो उसने भी शक जताया कि राजकुमार ने जानबूझ कर बाइक गिराई।

महिला ने 5 साल पहले की थी निगदू के युवक से दूसरी शादी, अपने खर्च पर भेजा था पुर्तगाल, लौटने के बाद की वारदात

बहन को किया फोन तो चला पता

इसके बाद करनाल में ही रहने वाली शैली की छोटी बहन एनआरआई मोनिका को फोन कर बताया कि हादसा हो गया। तान्या बह गई। शैली का अंतिम संस्कार कर दिया। जब उसने पूछा कि उसे क्यों नहीं बताया तो कहा कि बारिश हो रही थी।

दूसरे उसका नंबर गुम हो गया था। इससे मोनिका को शक हुआ। एसएचओ राकेश राणा के मुताबिक आरोपी ने पहले गुमराह किया, लेकिन उसकी हरकतों से लग रहा है कि उसने प्लानिंग से वारदात की। पहले वह जगह भी देख कर गया था। राजकुमार बीमार दादा को मिलने के बहाने दोनों को लेकर आया था।

उसकी बहन उसके मकान से कुछ ही दूरी पर किराए के मकान में पति राजकुमार व बेटी तान्या के साथ रहती थी। रास्ते में उनसे कहा कि उसे सुनहेड़ी में झाड़ा लगवाना है, लेकिन झाड़ा भी नहीं लगवाया। बिना पुलिस को सूचना व पोस्टमार्टम संस्कार किया तो शक गहराया। मामले की जांच एसआई वजीर सिंह को सौंपी है।

पुलिस ने गुरुवार देर शाम आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया। वजीर के मुताबिक आरोपी से पूछताछ की जा रही है। इस मामले में राजकुमार, उसके माता पिता, तीन बहनों व एक भाई के खिलाफ धारा 302 के तहत केस दर्ज किया।

फेसबुक से हुई थी दोस्ती, उसके बाद की थी शादी

मोनिका के मुताबिक उसकी बहन की पहले दिल्ली निवासी अनिल से सन् 1997 में शादी हुई थी। कुछ समय बाद तान्या हुई। 2016 में अनिल की बीमारी से मौत हो गई थी। सन् 2017 में फेसबुक पर शैली की राजकुमार से जान पहचान हुई। कुछ ही समय बाद दोनों ने शादी कर ली।

आरोपी की प्रॉपर्टी पर नजर थी

राजकुमार को शैली ने करीब दस लाख रुपए खर्च कर सन् 2020 में पुर्तगाल भेजा था, लेकिन मार्च 2021 में वह वापस लौट आया। इसके बाद से घर में कलेश रहने लगा। शैली पर दूसरा बच्चा करने के लिए दबाव देने लगा। उसके सास ससुर दूसरा बच्चा न होने के ताने देने लगे।

उस पर तलाक के लिए दबाव डालते, लेकिन शैली ने तलाक से इंकार कर दिया। राजकुमार दिखावे के लिए शैली के साथ ही रहता था। वह अमेरिका जाने की फिराक में भी था। उसने शैली व तान्या से छुटकारा पाने के लिए ही साजिश रची। इसमें उसके परिवार के लोग भी शामिल हैं।

कनाडा जाना चाहती थी तान्या

मोनिका ने बताया कि उसकी 21 वर्षीय भांजी तान्या ने कुछ समय पहले ही नर्सिंग का कोर्स किया था। वह आगे की पढ़ाई के लिए कनाड़ा जाना चाहती थी। मोनिका के मुताबिक वह खुद व उसका परिवार अमेरिका में रहता है। कुछ समय पहले ही वह भारत आई थी। वह भी तान्या की कनाडा में पढ़ाई के लिए प्लानिंग बना रही थी। राजकुमार ने मां की तो हत्या की, उस बेटी को भी मार दिया, जिसने अभी दुनिया देखनी थी। तान्या का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा।

Advertisement