करनाल की बेटी डॉ. साक्षी मदान गांधी ने किया करनाल का नाम रोशन, नृत्य के क्षेत्र में मुंबई सिनेमा अवार्ड 2022 से नवाजा गया

करनाल के युवा लगातार देश विदेश में करनाल का नाम रोशन कर रहे है। इसी कड़ी में करनाल की एक और बेटी ने करनाल का नाम रोशन किया है। मुंबई में बीती 11 सितंबर को मुंबई सिनेमा अवार्ड 2022 आयोजित हुआ था जिसमें फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े बड़े बड़े कलाकार भी शामिल हुए थे। इसी कार्यक्रम में करनाल की बेटी डॉ. साक्षी मदान गांधी को भी बड़े सम्मान से नवाजा गया। उन्हें नृत्य के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए मुंबई सिनेमा अवार्ड 2022 से नवाजा गया और साथ ही उन्होंने अपने कत्थक नृत्य की भी प्रस्तुति दी।

साक्षी को सम्मान मिलने के बाद वहां आये विभिन्न सिनेमा जगत के लोगो ने साक्षी के नृत्य की काफी तारीफ की। कार्यक्रम में मौजूद फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े कलाकारों द्वारा साक्षी को उनके आने वाले प्रोजेक्ट्स के लिए प्रस्ताव मिलने की भी पूरी संभावना दर्शाई। यह पूरा कार्यक्रम सुर झनकार सोसाइटी की अध्यक्ष ममता श्रीवास्तव जी द्वारा आयोजित करवाया गया।

इस कार्यक्रम का मंच संचालन एक्टर व एंकर कमल द्वारा किया गया जिसे एमिल ग्रुप ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर राजन हांडा जी, सोनोटेक म्यूजिक कंपनी मुंबई, गोधूलि परिवार आदि द्वारा स्पोनसर किया गया था। जिसमे बड़ी बड़ी फिल्म हस्तियों की बात करें तो सोनू निगम जी  के पिता अगम निगम आने वाली फ़िल्म हिन्दुत्व के डायरेक्टर की पत्नी आरती राजदान, ऐक्टर अली खान( फिल्म खुदा गवाह ) सिरियल पवित्र रिश्ता के डायरेक्टर, सिंगर उषा आदि फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े ऐसे बहुत से कलाकार शामिल रहे।

 

कौन है साक्षी मदान : साक्षी कथक नृत्य में P.Hd, यूनिवर्सिटी टॉपर व गोल्ड मेडलिस्ट है। नैशनल इंटरनेशनल लेवल पर इन्हें 300 से अधिक अवार्ड्स मिल चुके है। दुबई और मौरेशियस डांस फेस्टिवल में भी इन्होंने अपने नृत्य की कई सफल प्रस्तुतियां दी है। इन्हे निफा द्वारा प्राइड ऑफ करनाल तथा महाराष्ट्र (नांदेड़) में सप्तरंगी संस्था द्वारा गोरव पुरूस्कार दिया जा चुका है।

साक्षी द्वारा संचालित यूट्यूब चैनल Learn & Dance with Dr Sakshi जिसमें उनकी नृत्य प्रस्तुतियों की तथा नृत्य सिखाने की बहुत सी वीडियो देखने को मिलेंगी। जो लोग कथक नृत्य सीखना चाहते है वो इस चैनल से जुड़कर लाभ उठा सकते हैं। इनका उद्देश्य लोगों को भारतीय शास्त्रीय नृत्य के प्रति उजागर करने का है जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इस कला के प्रति जागरूक हो।

Advertisement