करनाल को मिला नया SDM, जानिए किसे किया गया नियुक्त- पूर्एव सडीएम आयुष सिन्हा का हुआ था तबादला

घरौंडा टोल पर हुए लाठीचार्ज की गाज करनाल के एसडीएम पर पड़ी है. एसडीएम आयुष सिन्हा का हरियाणा सरकार ने तबादला कर दिया है. लाठीचार्ज की घटना से पहले एसडीएम का एक विवादित वीडियों वायरल हुआ था. जिसके बाद आयुष सिन्हा के तबादले की मांग उठ रही थी। सरकार ने एक दिन पहले बुधवार को उनका तबादला कर उन्हें नागरिक सूचना संसाधन विभाग का अतिरिक्त सचिव नियुक्त किया है.

बता दें कि अब करनाल को नया एसडीएम मिल चुका है. विवादों में आए आईएएस अधिकारी आयुष सिन्हा की जगह अब जिला परिषद के सीईओ गौरव को एसडीएम करनाल लगाया गया है. गौरव कुमार शुक्रवार सुबह एसडीएम का कार्यभार संभालेंगे।

बता दें कि 28 अगस्त को करनाल में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में भाजपा संगठन की बैठक थी. इसमें पंचायत और शहरी निकाय चुनाव पर चर्चा की गई. इस बैठक को सफल बनाने के लिए शहर को चारों तरफ से सील किया हुआ था। इसी बीच एक नाके पर करनाल के एसडीएम आयुष सिन्हा द्वारा ऑर्डर दिए जाने का वीडियो वायरल हो गया.

वीडियो में जो शब्द रिकॉर्ड हुए, बरताड़ा टोल पर वैसा ही हुआ। पूरा लाठीचार्ज आयुष सिन्हा के उस वीडियो पर रहा. ऐसे में किसानों, विपक्ष, वकील व अन्य लोगों ने आयुष सिन्हा को बर्खास्त कर उनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की. पिछले चार दिन से ही इस मांग को लेकर काफी जोर चल रहा था जिसका असर बुधवार 1 सितंबर को देखने को मिला जब सरकार द्वारा 19 आईएएस व एक एचसीएस का तबादला किया इनमें एक नाम आयुष सिन्हा का भी शामिल रहा.

आयुष सिन्हा के बोल

आयुष सिन्हा एक वायरल वीडियो में बोलते नजर आ रहे हैं, ”सिम्पल है, जो भी यहां से कोई नहीं जाना चाहिए। जो जाए उसका सिर फोड़ दो, मैं डयूटी मजिस्ट्रेट हूं। सीधे लठ मारना, कोई डाउट। मारोगे। जवाब में पुलिस वालों की आवाज आई-जी सर

सिन्हा बोले, ”सीधे उठा-उठाकर मारने पीछे। कोई डाउट नहीं है कोई डायरेक्शन की जरूरत नहीं है क्लीयर है। ये नाका किसी भी हालत में लीक नहीं होने देंगे। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में 100 की फोर्स पीछे है। कोई इश्यू नहीं है। ठीक है। हम पूरी रात नहीं सोए है। दो दिन से डयूटी कर रहे हैं। यहां से एक बंदा नहीं जाना चाहिए। जो जाए तो उसका सिर फूटा होना चाहिए।”

Advertisement