कोरोना को लेकर भारत का नेतृत्व मजबूत, सब ठीक होने की आशा की किरणें जगी : स्वामी ज्ञानानंद

इंडिया ब्रेकिंग/करनाल रिपोर्टर (ब्यूरो) करनाल 27 अप्रैल,  गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने कहा कि कोरोना वायरस पूरे विश्व को पूरी तेजी से अपनी चपेट में ले रहा है। यदपि हमारा देश भारत भी अछूता नहीं है। कुछ तथ्य सामने हैं उसके आधार पर देखा जा रहा है कि जितनी भी भौतिकवादी शक्तियां साम्राज्य की इस ढंग या स्थितियों की बात कर रही है। अब यह लग रहा है कि इस महाकोप के आगे ये सब शक्तियां असहाय

दूसरी और जब हम भारत या यहां के नेतृत्व को देखते हैं तो कुछ आशा की किरणें यहां अभी भी दिखाई देती हैं। जिस ढंग से आह्वान हुए देश में लॉकडाउन इत्यादि इससे देश साथ दे रहा है। भारत का अध्यात्म है, वो भी हमारा मनोबल बढ़ा रहा है। सोच में सकारात्मकता ला रहा है। कुछ अफवाहों से मन आशंकित होते हैं, तो उसमें मेरा संदेश है कि सभी सकारात्मक रहें। कहीं ना कहीं प्राकृतिक का दोषण हुआ है। दिन तो ये भी निकल ही जाएंगे, आने वाला भविष्य हमें सुरक्षित मिले, इसके लिए सभी से सहयोग का आह्वान है।

स्वामी जी ने कहा कि स्थितियों को संभालने की नीतियां या नेतृत्व सिर्फ भारत के पास ही है। जिसे आज सभी देश पालन कर रहे हैं। भारतीयों की इम्यूनिटी ज्यादा अच्छी है। हम ऋतुओं के साथ तालमेल बनाना जानते हैं। पूरे देश में कई तरह के अनुष्ठान चल रहे हैं। ध्यान इम्यूनिटी और यज्ञ सैनिटाइजेशन का सबसे बड़ा स्त्रोत है। यही हमारे देश की अलग पहचान और मजबूती है। यहां भोजन भी विदेशों के मुकाबले ज्यादा शुद्ध है। भारत में संयुक्त परिवार भी परिवार को इन दिनों में तनावमुक्त रख रहा है। भारत जगत गुरु रहा है, अब विश्व मानने लगा है कि भारत ही विश्व का मार्गदर्शन करेगा

Advertisement