अगर आप भी अपनी गाड़ी में लगवाने वाले हैं चौड़े टायर तो हो जाए सावधान !

क्या होता है जब किसी वाहन में लगे टायर्स को हटा कर उनकी जगह चौड़े और मोटे टायर्स लगवा दिए जाते हैं. इस रिपोर्ट में हम इन्हीं बातों की जानकारी दे रहे हैं.

बाइक हो या फिर कार. हर वाहन में टायर्स का अहम रोल होता है. कंपनियां भी काफी रिसर्च करने के बाद किस गाड़ी में कौन से साइ का टायर लगाया जाएगा यह तय करती है. लेकिन अक्सर लोग अपनी गाड़ी में पहले से लगे टायर्स को हटा कर चौड़े टायर्स लगवा लेते हैं. वो लोग ऐसा इसलिए करते हैं ताकि गाड़ी का लुक स्पोर्टी होगा और साथ ही रोड पर बेहतर ग्रिप भी मिलेगी. लेकिन क्या होता है जब गाड़ी में लगे नॉर्मल टायर्स को हटा कर चौड़े टायर्स लगवा दिए जाते हैं.

चौड़े टायर्स के फायदे और नुकसान

अगर आपके पास 100cc-125cc इंजन वाली बाइक है और आप इसके रियर टायर को हटा कर चौड़े टायर लगवाने की सोच रहे हैं, तो इसका फर्क बाइक की परफॉरमेंस और माइलेज पर पड़ता है.

चौड़े टायर से माइलेज होती है कम

एक्सपर्ट मानते हैं कि बाइक या कार में चौड़े और मोटे टायर लगवाने से माइलेज पर असर पड़ता है, यानी की माइलेज कम आने लगती है क्योंकि टायर जितना चौड़ा और मोटा होगा वो सड़क पर ज्यादा जगह लेगा. इससे आपको ग्रिप तो बेहतर मिलेगी, लेकिन इससे माइलेज कम मिलेगी.

हल्के टायर में नहीं होती दिक्कत

चौड़े और मोटे टायर्स का वजन ज्यादा होता है. ऐसे में छोटे इंजन को थोड़ा ज्यादा फ़ोर्स लगाना पड़ता है. जबकि जबकि पतले और हल्के टायर्स में यह दिक्कत नहीं होती, इसलिए इनकी परफॉरमेंस में भी फर्क देखा जा सकता है. लेकिन अगर आपकी बाइक 150cc या इससे अधिक इंजन वाली है तो उसमें चौड़े और मोटे टायर्स लगाने से बहुत ज्यादा फर्क नहीं मिलेगा.

नहीं हटाने चाहिए कंपनी के टायर

लेकिन कंपनी जो टायर्स गाड़ी में लगाती है उन्हीं टायर्स को ही लगे रहने देना चाहिए. हर बाइक या कार में एक खास नंबर और साइज के टायर्स लगे होते हैं, ताकि बेहतर परफॉरमेंस मिल सके, अगर आप अपनी मर्जी से कोई भी टायर्स लगवा लेंगे तो इसका नुकसान आपके वाहन को होगा ही.

टायर चेंज करते वक्त रहे ये ध्यान

अगर आपकी गाड़ी के टायर्स घिस गए हैं या खराब हो गए हैं वो उसी साइज के टायर्स का इस्तेमाल करें जो पहले से लगे हैं. इससे आपको बढ़िया परफॉरमेंस तो मिलेगी ही साथ ही आपकी जेब पर भी असर नहीं पड़ेगा.

Advertisement