खजाने के लिए गड्ढा खोदा तो शर्त की वजह से 2 लोगों को गंवानी पड़ी जान

खजाना पाने के लिए कुछ दोस्तों में शर्त लगी कि जो इसका गड्ढा खोद देगा, उसे 10 हजार रुपये एक-दूसरे को देने होंगे। जब गड्ढा खुद गया तो शर्त के पैसे न देने पड़ें, इसलिए तीन लोगों को जलेबी और प्रसाद में मिलाकर जहर दे दिया गया, जिसमें दो की मौत हो गई। हैरान कर देने वाला यह मामला मध्य प्रदेश के भिंड जिले का है।

खजाने के लिए गड्ढा खोदा तो शर्त की वजह से हुई 2 लोगों की मौत

भिंड की मौ थाना पुलिस ने खजाने के मामले में हुई दो मौतों की गुत्थी सुलझाते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने हत्या का मामला भी दर्ज किया है।

खजाने के लिए गड्ढा खोदा तो शर्त की वजह से हुई 2 लोगों की मौत

जानकारी के अनुसार, 11 सितंबर के दिन मौ थाना पुलिस को यह सूचना मिली थी कि मदनपुरा गांव के पास एक खेत में खजाना खोजने के प्रयास में 2 लोगों की जान चली गई है। एक व्यक्ति की डेड बॉडी मौ थाना इलाके में मदनपुरा गांव के पास खेतों में मिली थी जबकि दूसरे व्यक्ति की डेड बॉडी गोहद थाना इलाके में मिली थी। मृतकों के नाम होतम सिंह और उमेश सिंह थे जबकि लक्ष्मण सिंह नाम का एक अन्य व्यक्ति बेहोश मिला था।

लक्ष्मण सिंह जब होश में आया तो उसने पुलिस को बताया कि वह लोग खजाना खोजने के लिए गए थे लेकिन अचानक से तबीयत बिगड़ गई और होतम ने दम तोड़ दिया, इसके साथ ही लक्ष्मण खुद भी बेहोश हो गया। उमेश की मौत के बारे में उसे जानकारी नहीं थी हालांकि उसने इस बात को जरूर बताया कि उसके साथ तीन अन्य लोग और थे जिन्होंने खजाने की खुदाई करने से पहले पूजा अर्चना की थी और उन्होंने लड्डू और जलेबी भी खिलाई थी।

खजाने के लिए गड्ढा खोदा तो शर्त की वजह से हुई 2 लोगों की मौत

पुलिस का शक इसी बात से गहरा गया। पुलिस ने इस मामले में जांच की और जो अन्य तीन खजाना खोजने के लिए होतम, उमेश और लक्ष्मण के साथ गए थे, उनका पता लगा लिया। पुलिस ने रामदास गुर्जर, थान सिंह कुशवाहा और खलीफा सिंह कुशवाहा को पकड़ लिया।

Representative image

पूछताछ में तीनों ने बताया कि खुदाई करने से पहले होतम और उमेश की खलीफा कुशवाहा से शर्त लगी थी कि अगर होतम और लक्ष्मण ने खजाने के लिए गड्ढा खोद दिया तो खलीफा उसे 10 हजार रुपये देगा। अगर खजाने के लिए गड्ढा नहीं खोद पाए तो होतम को 10 हजार रुपये खलीफा को देने होंगे।

शर्त लगाने के बाद होतम और लक्ष्मण ने खजाने के लिए 5 फीट गहरा गड्ढा खोद दिया। जब खलीफा को लगा कि उसे अब शर्त के 10 हजार रुपये देने पड़ेंगे तो वह प्रसाद लेने के लिए अपने साथियों के साथ चला गया और रास्ते में उसने प्रसाद में जहरीला पदार्थ मिला दिया।

Representative image

जब वह गड्ढे वाली जगह पर पहुंचे तो वहां पर उन्होंने पहले पूजा की। इसके बाद लक्ष्मण, उमेश और होतम को प्रसाद के रूप में लड्डू और जलेबी खिला दी, जिसके बाद उन तीनों की तबीयत बिगड़ गई। होतम सिंह की मौत मौके पर ही हो गई जबकि लक्ष्मण ने लड्डू और जलेबी कम खाए थे, इसलिए वह सिर्फ बेहोश हुआ। उमेश वहां से निकल गया और कुछ दूरी पर जाकर उमेश की भी मौत हो गई।

पुलिस ने इस मामले में खलीफा कुशवाहा, थान सिंह कुशवाहा और रामदास गुर्जर के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करते हुए तीनों को गिरफ्तार कर लिया है।

खजाने के लिए गड्ढा खोदा तो शर्त की वजह से हुई 2 लोगों की मौत

हालांकि खलीफा कुशवाहा का कहना है कि उसने तो लड्डू और जलेबी में सिर्फ धतूरे के बीज मिलाए थे और धतूरे के बीज से सिर्फ आदमी कुछ देर के लिए बेहोश हो जाता है उससे मौत नहीं होती है लेकिन पुलिस का कहना है कि इन तीनों के द्वारा लड्डू और जलेबी में जहर मिलाया गया था जिस वजह से उमेश और होतम की जान चली गई।

Advertisement