सामाजिक संस्था NIFFA ने मानव सेवा संघ करनाल में शहीद उधम सिंह जी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Advertisement

------------- Advertisement -----------

वतन पे जो फ़िदा होगा, अमर वो नौजवान होगा

इंडिया ब्रेकिंग/करनाल रिपोर्टर (ब्यूरो) रहेगी जब तलक दुनिया ये अफ़साना बयान होगा। इस गीत के साथ जब निफ़ा सदस्य रोहित ने अपनी बुलंद आवाज़ में शहीद ऊधम सिंह की महान शहादत को याद किया तो हर व्यक्ति देश भक्ति के जज़्बे से भर उठा। मौक़ा था सामाजिक संस्था नैशनल इंटेग्रेटेड फ़ोरम आफ आर्टिस्ट्स एंड एक्टिविस्टस (निफ़ा) द्वारा मानव सेवा संघ में शहीद ऊधम सिंह की याद में आयोजित श्रधांजलि समारोह का। निफ़ा के सदस्यों ने जहां शहीद की फ़ोटो पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रधांजलि दी वहीं उनकी याद में कर्ण पार्क में पौधा रोपण भी किया।

Advertisement

31 जुलाई 1940 को इंग्लैंड में भारत माता की आन बान ओर शान की रक्षा के लिए हंसते हंसते फाँसी के फंदे पर झूलने वाले शहीद ऊधम सिंह को पुष्प अर्पित करते हुए निफ़ा अध्यक्ष एडवोकेट प्रीतपाल सिंह पन्नु ने कहा कि शहीद ऊधम सिंह ने छोटे होते जलियाँवाला बाग का वो भयानक मंजर देखा था जिसमें जनरल डायर ने हज़ारों निर्दोष व निहत्थे भारतीयों को बिना किसी कारण गोलियों की बौशार कर शहीद कर दिया था ओर क़सम खाई थी कि वो इस जघनय हत्याकांड ओर देश के अपमान का बदला डायर को मार कर लेगा।

विश्व की क्रांतियों के इतिहास की यह सबसे विलक्षण घटना है जिसमें किसी क्रांतिकारी ने अपने लक्ष्य का 21 वर्ष तक पीछा किया ओर उसके लिए सात समंदर दूर जाकर इंग्लैंड के काकत्सन हाल में जनरल डायर को सरेआम मार कर जलियाँवाला बाग का बदला लिया ओर हंसते हंसते फाँसी के फंदे को चूमा।  पन्नु ने कहा कि आज हम शहीदों को याद तो करते हैं लेकिन उनके बताए रास्ते से कोसों दूर। हैं।

मानव सेवा संघ के प्रमुख स्वामी प्रेम मूर्ति ने कहा कि यह देश आज उन महान शहीदों के कारण आज़ाद है जिन्होंने देश के लिए अपने सुख आराम को त्याग कर जेल की काल कोठरियों ओर फाँसी के फंदों की भी परवाह नहीं की। निफ़ा महासचिव प्रवेश गाबा ने कहा की गिरफ़्तारी के बाद ऊधम सिंह ने अपना नाम राम मोहम्मद सिंह आज़ाद बताया ताकि वो पूरे देश के सभी धर्मों की एकता को दिखा सके। ऐसे महान शहीद से आज की युवा पीढ़ी को बहुत कुछ सीखने की आवश्यकता है।

निफ़ा सह सचिव जसविंदर सिंह बेदी ने भी शहीद ऊधम सिंह के महान बलिदान को याद किया ओर उनके जीवन चिन्हों पर चलते हुए हर भारतीय को राष्ट्र भक्त बनने की सलाह दी।  निफ़ा गो ग्रीन इंडिया टीम के परियोजना निदेशक राजीव मल्होत्रा ने बताया कि आज कर्ण पार्क में महान शहीद की याद में पौधा रोपण भी किया जा रहा है ताकि हम राष्ट्र प्रेम के साथ साथ देश के पर्यावरण को भी शुद्ध कर सकें।  उपस्थित निफ़ा सदस्यों को सतिंदर गांधी, बलविंदर कुमार, हितेश गुप्ता, गुरजंट सिंह, वरुण कश्यप, दीपेश राजपाल, पुनीत अरोड़ा सन्नी, गुरलाल सिंह, गुरजीत सिंह, मनिंदर सिंह, परमवीर सिंह, राम शर्मा, आदित्य आदि ने भी सम्बोधित किया

Advertisement