हरियाणा की मंडियों में कितनी हुई धान, बाजरा, मूंग और मक्का की खरीद, जानिए सबकुछ

चंडीगढ़. कृषि कानूनों के विरोध के बीच हरियाणा की मंडियों में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीफ फसलों की खरीद है. 13 अक्तूबर तक मंडियों में 18,14,405 मीट्रिक टन धान की आवक हुई, जिसमें से 18,13,805 मीट्रिक टन की खरीद कर ली गई. यही नहीं 12 अक्तूबर तक मंडियों से 12,48,108 मीट्रिक टन धान का उठान भी हो चुका है. सरकार की कोशिश है कि पूरा धान खरीदा जाए ताकि कृषि कानून को लेकर कांग्रेस या फिर कोई किसान संगठन उसे घेर न सके.

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने बताया कि हरियाणा की मंडियों में धान की आवक जल्द होने के कारण प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से धान की खरीद 25 सितंबर, 2020 से शुरू करने का अनुरोध किया था. केंद्र सरकार की अनुमति पर प्रदेश सरकार द्वारा 27 सितंबर, 2020 से अंबाला, करनाल, कैथल और कुरुक्षेत्र जिलों में तथा शेष जिलों में 29 सितंबर से खरीद शुरू कर दी गई थी. न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान की खरीद करने के लिए 198 मंडियां खोली गई हैं.

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा 10,09,105 मीट्रिक टन, हैफेड द्वारा 6,06,776 मीट्रिक टन, भारतीय खाद्य निगम द्वारा 12,375 मीट्रिक टन और हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा 1,85,549 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है. खरीद एजेंसियों द्वारा धान की खरीद सरकार द्वारा निर्धारित कॉमन किस्म के लिए 1868 रुपये प्रति क्विंटल और ग्रेड-ए के लिए 1888 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है.

किसानों के रजिस्ट्रेशन के लिए के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल खुला हुआ है. इस पर रजिस्ट्रेशन के बाद ही किसान मंडियों में धान बेच सकते हैं.

अन्य फसलों की खरीद

  • प्रदेश की 132 मंडियों में 1 अक्तूबर से शुरू हुई बाजरे की खरीद हैफेड और हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा 2150 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है. 12 अक्तूबर तक 70,060 मीट्रिक टन बाजरे की खरीद हुई है और 53,804 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है.
  • बाजरा किसानों की रोजाना शेड्यूलिंग को 150 से बढ़ाकर 450 किसान प्रतिदिन कर दी गई है. 13 अक्तूबर से पड़ोसी राज्यों के पंजीकृत धान किसानों की शेडयूलिंग भी शुरू हो गई है.
  • मक्का की खरीद 1850 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करने के लिए 19 मंडियां खोली गई हैं. हैफेड को इसके लिए नोडल एजेंसी बनाया गया है. 12 अक्तूबर तक 807.65 मीट्रिक टन मक्का की खरीद हुई है और मंडियों से 524.30 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है.
  • प्रदेश में मूंग की खरीद 7196 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करने के लिए 23 मंडियां खोली गई हैं. हैफेड तथा हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा मूंग की खरीद की जा रही है. 12 अक्तूबर तक 480.02 मीट्रिक टन मूंग की खरीद हुई है. जबकि 381.55 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है.
Advertisement