कितना बढ़ने जा रहा है पानीपत का टोल टैक्स? सांसद ने उठाई थी हटाने की मांग!

Advertisement

------------- Advertisement -----------

कोरोना संकट में आय में कमी आई है, दूसरी ओर पानीपत टोल प्लाजा पर टैक्स बढ़ाया जा रहा है। 17 जुलाई से कार, बस और ट्रक समेत सभी वाहनों पर पांच रुपये से ऊपर टोल लेना शुरू हो जाएगा। हालांकि मासिक पास बनवाने वाले वाहन चालकों को कुछ राहत मिलेगी। टैक्स नहीं बढ़ाया। पानीपत टोल प्लाजा से रोजाना करीब 30 हजार वाहन गुजरते हैं। इन वाहनों में कार और माल वाहक वाहनों की संख्या सबसे अधिक है। जब टोल प्लाजा का सर्वे किया तो रविवार को दोपहर 2:40 बजे पानीपत-करनाल लेन से 11 कारें और तीन व्यावसायिक वाहन टोल प्लाजा पार कर गए।

पानीपत-दिल्ली लेन से दूसरी तरफ जहां सात कारें पार की। साथ ही दो कामसंवस्हार चालक वाहनों में गंतव्य के लिए रवाना हो गए। पानीपत टोल प्लाजा पर औसतन हर घंटे एक हजार से अधिक कारें व साढ़े तीन सौ से अधिक बसें व अन्य व्यावसायिक वाहन पार कर रहे हैं। 1.50 लाख कमाए, नागरिकों को नहीं दी नई टोल दर लागू करके एलएंडटी कंपनी अपनी दैनिक आय में औसतन 1.50 लाख रुपये की वृद्धि करने जा रही है।

Advertisement

इस कमाई में नागरिकों की भी कुछ प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। टोल चुकाने के बावजूद रहवासियों को ओवरब्रिज से कोई लाभ नहीं मिल रहा है। ज्यादातर स्थानीय वाहन चालक अभी भी जीटी रोड का इस्तेमाल शहर से बाहर जाने के लिए करते हैं। टोल प्लाजा हटाने और कटौती खोलने के सपने अधूरे नेता अक्सर पानीपत टोल प्लाजा को हटाने और खुले में काटने का वादा करते हैं। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही सरकारें इस वादे को पूरा होते नहीं दिख रही हैं। दूसरी ओर टैक्स जरूर बढ़ रहा है। इसके साथ ही फ्लाईओवर आज शहर में जाम का कारण बन गया है। सेक्टर 18 कट को बंद करने का प्रयास किया गया है।

वाहन पहले दर अब दर कार,

जीप और वेन 30 35

हल्के वाणिज्यिक वाहन 45 50

बस और ट्रक 95 100

भारी वाहन 95 100

Advertisement