रक्षा बंधन के लिए हरियाणा रोडवेज ने की तैयारी, जानिए एक बस में कितने यात्री बैठेंगे?

Advertisement

------------- Advertisement -----------

रक्षाबंधन के लिए पानीपत रोडवेज ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। 3 दिन के लिए 2 से 4 अगस्त तक के लिए सभी बसों को रूट पर भेजने को लेकर विचार किया जा रहा है। ताकि महिलाओं को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

एक बस में 30 से ज्यादा सवारियों को नहीं बिठाया जाएगा। वहीं, रक्षाबंधन पर चंडीगढ़, दिल्ली, हरिद्वार, मेरठ रूट पर बसों को नहीं भेजा जाएगा। पानीपत डिपो पर करीब 130 रोडवेज बसें हैं। इनमें से फिलहाल करीब 70 बसों को ही रूटों पर भेजा जा रहा है।

Advertisement

प्लानिंग के तहत रक्षाबंधन पर्व के दिन रोडवेज अपनी सभी बसों को ऑनरूट कर सकता है। कोविड 19 गाइडलाइन को देखते हुए बसों में 30 से ज्यादा सवारियों को नहीं बिठाया जाएगा। वहीं, हर यात्री की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। अधिक तापमान पाए जाने पर सफर करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके साथ ही सभी यात्रियों का रिकॉर्ड भी दर्ज किया जाएगा।

मुख्यालय से आदेश का इंतजार : जीएम बालकराम

पानीपत रोडवेज डिपो के जीएम बालक राम ने बताया कि मुख्यालय के आदेश का इंतजार किया जा रहा है। फिलहाल तैयारियां  की जा रही हैं। आदेश मिलने पर 3 दिन के लिए संचालन शुरू कर दिया जाएगा। इसके पहले ट्रैफिक व ड्यूटी सेक्शन के स्टाफ के साथ मीटिंग कर तैयारियों की समीक्षा की जा रही है।

बस में सोशल डिस्टेंसिंग की सुविधा बनी रहे, इसका भी ध्यान रखा जाएगा। जीएम ने बताया कि हरियाणा के सभी जिलों को कवर किया जा रहा है। चंडीगढ़, दिल्ली, हरिद्वार, मेरठ के लिए पानीपत डिपो से बसों को नहीं भेजा जाएगा। क्योंकि इन जिलों में पहले से प्रतिबंध लगा हुआ है।

Advertisement