नौकरी के लिए हरियाणा सरकार की नई पहल, ऑनलाइन होगा रजिस्ट्रेशन

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने राज्य में सरकारी भर्तियों की प्रक्रिया में बदलाव किए गए हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस संबंध में जरूरी घोषणाएं की हैं। हरियाणा में अब सरकारी नौकरी पाने के लिए जॉब पोर्टल पर पंजीकरण करना अनिवार्य है। वहीं, एक कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) की भी घोषणा की गई है। इन दोनों की डीटेल आगे दी जा रही है।

हरियाणा में अब हरियाणा स्टाफ सेलेक्शन कमिशन ने प्रतिभागियों के लिए वन टाइम रजिस्ट्रेशन के जरिए ग्रुप सी और ग्रुप डी कैटेगरी में आवेदन की प्रक्रिया की शुरुआत की है। ग्रुप सी और ग्रुप डी कैटेगरी के पद व अराजपत्रित टीचिंग पोस्ट के लिए ओटीपी के जरिए आवेदन किया जा सकता है। इसके लिए प्रतिभागियों को अपने मोबाइल फोन नंबर के जरिए पोर्टल पर लॉगिन करना होगा। ओटीपी रजिस्ट्रेशन पोर्ट को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को लॉन्च किया है।

इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए आपको आवेदन करना होगा। प्रतिभागियों को इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद सिर्फ एक बार 500 रुपए की फीस जमा करनी होगी। जनरल कैटेगरी के छात्रों को 500 रुपए की फीस, आरक्षित कैटेगरी के छात्रों को 250 रुपए की फीस जमा करनी होगी। इस पोर्टल को लॉन्च करते हुए मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इस प्रक्रिया भर्ती में और भी पारदर्शिता लाएगी और भर्ती की प्रक्रिया को तेज करेगी।

एचएसएससी के चेयरमैन भारत भूषण भारती ने बताया कि वन टाइम रजिस्ट्रेशन पोर्टल ना सिर्फ नौकरी हासिल करने का मौका देगा बल्कि प्रतियोगियों को सिर्फ एक बार रजिस्ट्रेशन करना होगा और एक ही बार फीस देनी होगी, इससे प्रतियोगियों को बार-बार डॉक्युमेंट वेरिफिकेशन से राहत मिलेगी। साथ ही कॉमन इलिजिबिलिटी टेस्ट होगा और गुणवत्ता परक भर्ती होगी। जो छात्र 10वीं व 12वीं की इस साल परीक्षा दे रहे हैं वो भी इस पोर्टल पर प्रोविजनली रजिस्टर कर सकते हैं। छात्र 31 मार्च तक इस पोर्टल अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

वन टाइम रजिस्ट्रेशन पोर्टल को परिवार पहचान पत्र के साथ जोड़ा जाएगा, जहां परिवार के सदस्यों की जानकारी अपने आप दर्ज हो जाएगी और फॉर्म भरते समय यह अपने आप फिल हो जाएगी। प्रतियोगियों के पास यह विकल्प होगा कि वह अपने परिवार की जानकारी को पोर्टल पर अपडेट कर सकते हैं। हरियाणा सरकार परिवार पहचान पत्र को सिर्फ हरियाणा के निवासियों के लिए ही जारी करती है। यह सर्टिफिकेट उन लोगों को जारी किया जाता है जोकि पिछले 5 साल से हरियाणा में रह रहे हैं।

Advertisement