हरियाणा सरकार ने ऑनलाइन पढ़ाई के लिए जारी की नई गाइडलाइन

Advertisement

------------- Advertisement -----------

नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 12वीं तक के छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। इसमें सबसे ज्यादा ध्यान बच्चों के स्क्रीन के सामने गुजारे जाने वाले समय को सीमित रखने पर दिया है।

गाइडलाइन के अनुसार प्री-प्राइमरी छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाओं की अवधि 30 मिनट से अधिक नहीं होनी चाहिए। कक्षा 1 से 8 तक के लिए मंत्रालय ने 45 मिनट तक की दो ऑनलाइन कक्षाओं की सिफारिश की है, जबकि कक्षा 9 से 12 तक के लिए 30-45 मिनट की अवधि की चार कक्षाओं की सिफारिश की गई है।

Advertisement

स्कूलों की ऑनलाइन कक्षाओं की नियमितता को लेकर अभिभावकों द्वारा उठाई गई चिंताओं के बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है। कोरोना महामारी के बाद बच्चे ऑनलाइन कक्षाएं ले रहे हैं। इस दौरान बच्चे स्क्रीन में ज्यादा समय लगा रहे हैं। ऐसे में मांग थी कि क्लास टीचिंग से ऑनलाइन शिक्षण के लिए एक शिफ्ट जरूरी है। लॉकडाउन के बाद से करीब चार महीनों से देशभर से स्कूल बंद होने के बाद से वे ऑनलाइन माध्यम से बच्चों को पढ़ा रहे हैं। अभिभावकों की चिंता को देखते हुए सरकार ने अब प्रगति नामक दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

कोरोना महामारी के चलते स्कूलों को बंद करने के देश के 24 करोड़ से अधिक बच्चे प्रभावित हुए हैं। नई गाइडलाइन जारी करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए स्कूलों को अब तक पढ़ाने और सीखने के तरीके को फिर से तैयार करना होगा।

Advertisement