हरियाणा बॉर्डर की बसें हिमाचल बॉर्डर से वापिस, इन तीन राज्यों में नही जायेंगी बसें

पानीपत. हरियाणा रोडवेज की चार बसें बुधवार को हिमाचल व उत्तराखंड के लिए रवाना की गई, लेकिन इन बसों को हिमाचल प्रदेश के परमाणु, काला अंब बार्डर पर रोक दिया गया। हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों ने बसों को एंट्री नहीं दी। इससे यात्रियों को लेकर जा रही बसें वापस लौट आई।

यही नहीं उत्तराखंड सरकार ने भी फिलहाल हरियाणा रोडवेज की बसों को न आने को कहा है, जबकि जम्मू-कश्मीर ने भी कुछ दिन रूकने की बात कही है। दिनभर हरियाणा के परिवहन विभाग के आला अफसरों की हिमाचल प्रदेश के अलावा पड़ोसी राज्यों के अधिकारियों के साथ बातचीत होती रही। गौरतलब है कि हरियाणा राज्य परिवहन ने दूसरे प्रदेशों के लिए 157 बसों को चलाने का शेडयूल दो जून को जारी किया था, इनकी ऑनलाइन बुकिंग होनी है। यात्री अब काफी संख्या में बसों में दूसरे प्रदेश जाना चाहते हैं।

अब केवल राजस्थान-यूपी-चंडीगढ़-एमपी जाएंगी बसें

अब केवल उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश और चंडीगढ़ तक हरियाणा रोडवेज की बसें जाएंगी। जब दूसरे प्रदेश कहेंगे, तभी वहां पर बसों का संचालन होगा। नई दिल्ली अपने यहां बसों की आवाजाही नहीं होने देंगे।

प्रदेश के अंदर बसों की संख्या बढ़ाई जाएगी

हरियाणा में यात्री बसों के लिए आने लगे हैं, जहां भी बसों की संख्या बढ़ाने की जरूरत होती है, वहां बसें बढ़ाई जा रही हैं। फिलहाल 435 बसें हरियाणा में चलेंगी, इनमें 212 जिला से जिला और 223 लोकल रूटों पर चलेंगी।

4 बसों को हिमाचल में एंट्री नहीं दी गई। हिमाचल प्रदेश ने एमएचए की गाइड लाइन का पालन नहीं किया। चंडीगढ़, यूपी, राजस्थान में हरियाणा की बसें जाएंगी।

अनुराग रस्तोगी, एसीएस, परिवहन विभाग।

बस को बॉर्डर पर हिमाचल ने रोक दिया है। 4 बसें हिमाचल रोकी हैं, जबकि पंजाब, उत्तराखंड व जम्मू कश्मीर में भी बसें नहीं जाएंगी।

मूलचंद शर्मा, परिवहन मंत्री।

हिमाचल गई थीं 4 बसें

हरियाणा राज्य परिवहन की तीन बसें बुधवार को हिमाचल प्रदेश के शिमला, पौंटासाहिब व बद्दी के लिए रवाना हुई। इन बसों को परमाणु और काला अंब बार्डर पर पुलिस ने रोक दिया। जबकि उत्तराखंड के देहरादून जा रही बस को भी कालाअंब में रोका गया। यह बस हिमाचल से होकर उत्तराखंड तक जाती है। ऐसे में चारों बसें वापस लौट आई। हरियाणा व हिमाचल प्रदेश के अफसरों के बीच तीखी नाेकझोंक हुई है।

लुधियाना गई बस लौटी

करीब 30 सवारियों को लेकर अम्बाला डिपो की बस वाया पटियाला लुधियाना के लिए रवाना की गई थी, यह बस लुधियाना तक पहुंची और वापस भी लौट आई है। शाम को पंजाब की ओर से यह सूचना दी गई कि फिलहाल बसों को पंजाब न भेजा जाए। इसके लिए पंजाब जल्द ही कोई निर्णय लेगा। जब सूचना स्टेट मुख्यालय चंडीगढ़ पहुंची तो हरियाणा परिवहन विभाग के आला अफसरों ने पंजाब के अधिकारियों के बात की और एमएचए के गाइडलाइन का हवाला दिया।

Advertisement