हरियाणा बोर्ड ने घोषित किया 12th का रिजल्ट, इस वेबसाइट पर जाकर चैक करें रिज़ल्ट

Advertisement

------------- Advertisement -----------

भिवानी । HBSE, Haryana Board Class 12th Result 2020: हरियाणा विद्यालय शिक्षा ने 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। बोर्ड अध्‍यक्ष जगबीर सिंह रिजल्‍ट जारी किया है। जगबीर सिंह के अनुसार, विद्यार्थियों के लिए परीक्षा परिणाम बोर्ड की बेबसाइट पर जारी किया गया है । आप रिजल्‍ट bseh.org.in पर देख सकते हैं। इस बार 2,32,157 विद्या‍र्थियों ने परीक्षा दी हैं। पिछले साल 74. 48 फीसद विद्यार्थी पास हुए थे। लड़कियों ने इसमें बाजी मारी थी और लड़कों से आगे रही थी।

बता दें कि कोरोना संकट के कारण परीक्षा परिणाम घोषित होने में इस साल विलंब हुआ है। कोरोना संकट के कारण कुछ विषयों की परीक्षा नहीं हो पाई थी और उसको लेकर फार्मूला निकालने के बाद परीक्षा परिणाम तैयार किए गए हैं। बोर्ड अधिकारियों के अनुसार आज शाम तक बोर्ड की वेबसाइट पर परिणाम अपलोड कर दिया जाएगा।

Advertisement

बोर्ड के सचिव राजीव प्रसाद ने परीक्षा परिणाम घोषित करने की पुष्टि की। उन्‍होंने बताया कि बोर्ड 12वीं का परिणाम आज घोषित कर रहा है। बोर्ड ने इसके लिए सभी जरूरी औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं। बोर्ड के चेयरमैन जगबीर सिंह के अनुसार, रिजल्‍ट आज शाम 5-6 बजे के आसपास घोषित किया जाएगा।

बता दें कि हरियाणा स्‍कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा मार्च में 12वीं की परीक्षा ली गई थीं। परीक्षाएं 3 मार्च से शुरू हुई थीं और बाद में लॉकडाउन घोषित कर दिए जाने के बाद इसे स्‍थगित कर दिया गया था। इस वजह से कुछ विषयों की परीक्षाएं नहीं हो पाई थीं। बाद में हरियाणा सरकार ने बचे हुए विषयों की परीक्षाएं रद कर दी थीं।

परीक्षा में 2 लाख 32 हजार 157 परीक्षार्थी बैठे थे

3 से 31 मार्च तक हुई हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड बारहवीं कक्षा की (शैक्षिक व मुक्त विद्यालय) वार्षिक परीक्षा में 2 लाख 32 हजार 157 परीक्षार्थी बैठे थे। इसके लिए 1685 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। सभी परीक्षाएं एक ही सत्र में दोपहर 12:30बजे से सायं 3:30 बजे तक हुई थी। परीक्षा संचालन के लिए 28,580 सुपरवाईजर, उप-केंद्र अधीक्षक, आबजर्वर एवं 1,685 केंद्र अधीक्षक नियुक्त किए गए थे।

बारहवीं कक्षा में बैठे 2,32,157 परीक्षार्थी

ओपन स्कूल – 58,551 परीक्षार्थी

बारहवीं (शैक्षिक) में कुल परीक्षार्थी- 2,15,513

बारहवीं(शैक्षिक) में छात्राएं- 1,00,729

बारहवीं (शैक्षिक) में छात्र- 1,14,784

बारहवीं (रि-अपीयर) में कुल परीक्षार्थी- 16,644

बारहवीं (रि-अपीयर में छात्राएं- 3,702

बारहवीं (रि-अपीयर) में छात्र- 12,942

बारहवीं (फ्रैश) कुल परीक्षार्थी- 32,853

बारहवीं (फ्रैश) में छात्राएं- 10,528

बारहवीं (फ्रैश) में छात्र- 22,325

बारहवीं (रि-अपीयर) में कुल परीक्षार्थी- 25,698

बारहवीं (रि-अपीयर) में छात्राएं- 7,619

बारहवीं (रि-अपीयर) में छात्र- 18,079 ।

हरियाणा बोर्ड की 12वीं कक्षा के ये पेपर हो गए थे स्थगित

कोरोना संकट के कारण की 12वीं कक्षा के 19 से 30 मार्च तक की परीक्षा स्थगित कर दी गई थी। अब इसका परिणाम जिन विषयों के पेपर हो चुके उनके अंकों की औसत के आधार पर दूसरे विषयों के अंक निर्धारित किए गए हैं।

19 मार्च-          पंजाबी

20 मार्च-          राजनीतिक शास्‍त्र

21 मार्च-          केमिस्ट्री, अकाउंटेंसी, पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन

24 मार्च-          फिजिकल एजूकेशन

25 मार्च-          सोशियोलोजी, इंटरपरेन्यूरशिप

26 मार्च-          साइकोलोजी, बायोलोजी, फिलॉस्फी, बिजनस स्टडीज।

27 मार्च-          होम साइंस

28 मार्च –         संस्कृत, उर्दू

30 मार्च- रिटेल सिक्योरिटी, ऑटोमोबाइल, आइटी एंड आईटीइएस, पैसेंट केयर एसिसटेंट, फिजिकल एजूकेशन एंड स्पोर्ट्स, ब्यूटी एवं वेलनेस, आफिसर सेक्रेटरीशिप एंड स्टेनोग्राफी इन हिंदी इंग्लिश, ट्रेवल टूरिज्म एंड हॉस्पिटिलिटी, एग्रीकल्चर पैडी फार्मिंग, मीडिया एमिनेशन

पिछले वर्ष 2019 का 12वीं का परिणाम इस प्रकार रहा था

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 12वीं परीक्षा में 74. 48 फीसद विद्यार्थी पास हुए थे। स्वयंपाठी परीक्षार्थियों का परिणाम 57.61 फीसदी रहा था। लड़कियां 82.48 और लड़के 68.01 फीसदी पास हुए थे।

सरकारी स्कूलों का 76.39 और प्राइवेट का 72.61 फीसदी रहा था परिणाम

इस परीक्षा में राजकीय विद्यालयों का पास प्रतिशत 76.39 और निजी स्‍कूलों का प्रतिशत 72.61 रहा था। ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 75.74 और शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 71.83 रही थी। सीनियर सेकेंडरी परीक्षा के स्वयंपाठी परीक्षार्थियों का परिणाम 57.61 प्रतिशत रहा था।

वर्ष 2011 से 2019 तक ये रहा है 12वीं का परिणाम

वर्ष 2011 से लेकर वर्ष 2019 तक के हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के 12वीं के परीक्षा परिणाम की बात करें तो इन वर्षों में अब तक वर्ष 2019 का सबसे बेहतर परिणाम रहा है। वर्ष 2019 में इन वर्षों में सबसे ज्यादा 74.48 तो 2015 में सबसे कम 53.87 फीसदी परिणाम रहा था। 2011 में 72.85 व 2014 में 72.91 प्रतिशत रहा था। बोर्ड की 12वीं का परिणाम वर्ष 2011 से इस प्रकार रहा है:

वर्ष          परीक्षा परिणाम  (फीसद में)

2011-        72.85

2012-        67.82

2013-        59.31

2014-       72.91

2015-        53.87

2016-        62.40

2017-        64.50

2018-        63.84

2019-        74.48

Advertisement